Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

तन्हा ही खूबसूरत हूं मैं।

तन्हा ही खूबसूरत हूं मैं।
अपनी सिमटती जान का
गुलशन ए मोहब्बत हूं मैं
क्या कोई सहारे की चाह रखूं
आसमां भी नहीं, खुद का छत हूं मैं
जमाना जिसका ना तो मैं नजरिया
न ही इस जमाने की आदत हूं मैं
भीड़ भीड़ गैरों में कुछ नहीं
पर तन्हा खूबसूरत हूं मैं।

1 Like · 84 Views
You may also like:
एक था ब्लैक टाइगर रविन्द्र कौशिक
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
तुम्हीं तो हो ,तुम्हीं हो
Dr.sima
अरदास
Buddha Prakash
न और ना प्रयोग और अंतर
Subhash Singhai
✍️हर बूँद की दास्ताँ✍️
'अशांत' शेखर
सुन ज़िन्दगी!
Shailendra Aseem
✍️✍️व्यवस्था✍️✍️
'अशांत' शेखर
इसी से सद्आत्मिक -आनंदमय आकर्ष हूँ
Pt. Brajesh Kumar Nayak
'तुम्हारे बिना'
Rashmi Sanjay
बाबा भैरण के जनैत छी ?
श्रीहर्ष आचार्य
धूल जिसकी चंदन है भाल पर सजाते हैं।
सत्य कुमार प्रेमी
मैं वट हूँ
Rekha Drolia
Only for L
श्याम सिंह बिष्ट
If We Are Out Of Any Connecting Language.
Manisha Manjari
हे ईश्वर!
Anamika Singh
मां बाप की दुआओं का असर
Ram Krishan Rastogi
जिन्दगी और सपने
Anamika Singh
ये जी चाहता है।
Taj Mohammad
गौरव है मेरा, बेटी मेरी
gurudeenverma198
तजर्रुद (विरक्ति)
Shyam Sundar Subramanian
मुंह की लार – सेहत का भंडार
Vikas Sharma'Shivaaya'
अशक्त परिंदा
AMRESH KUMAR VERMA
✍️मेरी शख़्सियत✍️
'अशांत' शेखर
✍️बगावत थी उसकी✍️
'अशांत' शेखर
जिंदगी देखा तुझे है आते औ'र जाते हुए।
सत्य कुमार प्रेमी
देवदूत डॉक्टर
Buddha Prakash
पहले ग़ज़ल हमारी सुन
Shivkumar Bilagrami
क्यों मेरा
Dr fauzia Naseem shad
रक्षाबंधन भाई बहन का त्योहार
Ram Krishan Rastogi
जगाओ हिम्मत और विश्वास तुम
gurudeenverma198
Loading...