Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 12, 2021 · 1 min read

ढीठ

हाजिर जवावी में सानी नही कोई
वो बोलती है तो मैं सुनता हूं
वो बताती जाती है कब क्या कैसे
एक मैं हूं जो बैसे वैसे बुनता हूँ
मेरी हंसी मेरी खुशी का कोई मोल नही
उसे फर्क नही, मैं किसे चुनता हूँ
इतने वक़्त में तो बच्चे भी सीख जाते है
पता नही क्यूँ मैं गलत गिनता हूँ
जिंदगी कब से सिखाती है बताती है समझाती है
ढीठ हूँ मैं, ऐसा ही हूँ, कहाँ सुनता हूँ

1 Like · 224 Views
You may also like:
बंकिम चन्द्र प्रणाम
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
अजीब दौर हकीकत को ख्वाब लिखने लगे
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
# उम्मीद की किरण #
Dr.Alpa Amin
वनवासी संसार
सूर्यकांत द्विवेदी
आसान नहीं होता है पिता बन पाना
Poetry By Satendra
आंखों पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
तौबा तौबा
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जो भी संजोग बने संभालो खुद को....
Dr.Alpa Amin
सब अपने नसीबों का
Dr fauzia Naseem shad
जिस देश में शासक का चुनाव
gurudeenverma198
Sweet Chocolate
Buddha Prakash
मेरी प्रिय कविताएँ
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
इंसानी दिमाग
विजय कुमार अग्रवाल
इच्छा
Anamika Singh
*कविवर रमेश कुमार जैन की ताजा कविता को सुनने का...
Ravi Prakash
"मेरी कहानी"
Lohit Tamta
स्मृति चिन्ह
Shyam Sundar Subramanian
तरसती रहोगी एक झलक पाने को
N.ksahu0007@writer
अंतिमदर्शन
विनोद सिन्हा "सुदामा"
जोशवान मनुष्य
AMRESH KUMAR VERMA
बस तुम्हारी कमी खलती है
Krishan Singh
✍️सिर्फ मिसाले जिंदा रहेगी...!✍️
"अशांत" शेखर
【26】**!** हम हिंदी हम हिंदुस्तान **!**
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
प्रेम
Dr.Priya Soni Khare
✍️मातम और सोग है...!✍️
"अशांत" शेखर
समझता है सबसे बड़ा हो गया।
सत्य कुमार प्रेमी
बरसात
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
जो... तुम मुझ संग प्रीत करों...
Dr.Alpa Amin
-जीवनसाथी -
bharat gehlot
जिंदगी की कुछ सच्ची तस्वीरें
Ram Krishan Rastogi
Loading...