Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

डूबता_आतंकिस्तान

डूबता_आतंकिस्तान
_______________

जहां सिसकती बचपन दम तोड़े , व्याभिचार के अड्डों में ,
जहां बच्चे झोंके जाते हों , आतंक के खड्डो में,
जहां बच्चियां वेश्यालय में हर दिन झोंकी जाती हों ,
आतंकपरस्तों के ठिकानों में, जबरन फेंकी जाती हों ;
सोचें किस जनमानस को भयंकर प्रलाप नहीं होगा … ,
किस सभ्य समाज को इस दुर्दिन का संताप नहीं होगा !

लेकिन प्रकृति के लुटेरों को हर्ष , क्षणिक विषाद कहां होता ;
वैश्विक संकेतों से भर जाता पेट , कटोरा याद कहां होता …!

✍️ आलोक पाण्डेय

175 Views
You may also like:
"कुछ तुम बदलो कुछ हम बदलें"
Ajit Kumar "Karn"
पुस्तकें
डॉ. शिव लहरी
बेदर्दी बालम
Anamika Singh
मुट्ठी में ख्वाबों को दबा रखा है।
Taj Mohammad
उसे चाहना
Nitu Sah
भारत माँ के वीर सपूत
Kanchan Khanna
💐प्रेम की राह पर-29💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
महादेवी वर्मा जी की वेदना
Ram Krishan Rastogi
जीवन चक्र
AMRESH KUMAR VERMA
पिता भगवान का अवतार होता है।
Taj Mohammad
"DIDN'T LEARN ANYTHING IF WE DON'T PRACTICE IT "
DrLakshman Jha Parimal
तेरी सूरत
DESH RAJ
भगवान सा इंसान को दिल में सजा के देख।
सत्य कुमार प्रेमी
हर रास्ते की अपनी इक मंजिल होती है।
Taj Mohammad
चाहत की हद।
Taj Mohammad
मेंढक और ऊँट
सूर्यकांत द्विवेदी
कोई ठांव मुझको चाहिए
Saraswati Bajpai
✍️✍️भोंगे✍️✍️
"अशांत" शेखर
✍️दहशत में है मजारे✍️
"अशांत" शेखर
समझना आपको है
Dr fauzia Naseem shad
बेटी का पत्र माँ के नाम
Anamika Singh
कर लो कोशिशें।
Taj Mohammad
सुबह - सवेरा
AMRESH KUMAR VERMA
परख लो रास्ते को तुम.....
अश्क चिरैयाकोटी
काश उसने तुझे चिड़ियों जैसा पाला होता।
Manisha Manjari
शेखर जी आपके लिए कुछ अल्फाज़।
Taj Mohammad
थोड़ी सी कसक
Dr fauzia Naseem shad
"अबला नहीं मैं"
Dr Meenu Poonia
भारतीय सभ्यता की दुर्लब प्राचीन विशेषताएं ।
Mani Kumar Kachi
मैने देखा है
Anamika Singh
Loading...