Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Feb 2022 · 1 min read

जीवन का जीवन पर

जीवन का जीवन पर
तेरे ये उपकार हो ।
केवल सफलता ही नहीं
हार भी स्वीकार हो ।
वाणी तेरी मीठी-मीठी
उच्य तेरे विचार हो।
मित्र बने शत्रु भी तेरे
ऐसा तेरा व्यवहार हो ।
तेरी प्रतिष्ठा तेरा गौरव
जीवन का पर्याय हो,
जाग उठे आत्मा तेरी
ऐसी एक ललकार हो ।
कर दूं तुझे आत्मा ही नहीं
हर श्वास समर्पित,
मेरा तुझपर मेरे प्रिय
इतना तो अधिकार हो ।”
डाॅ फौज़िया नसीम शाद

8 Likes · 164 Views
You may also like:
नव दीपोत्सव कामना
नव दीपोत्सव कामना
Shyam Sundar Subramanian
आसमां में चांद अकेला है सितारों के बीच
आसमां में चांद अकेला है सितारों के बीच
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
कुछ वक्त के लिए
कुछ वक्त के लिए
Surinder blackpen
जिंदगी का सफर बिन तुम्हारे कैसे कटे
जिंदगी का सफर बिन तुम्हारे कैसे कटे
VINOD KUMAR CHAUHAN
क्लास विच हिन्दी बोलनी चाहिदी
क्लास विच हिन्दी बोलनी चाहिदी
विनोद सिल्ला
शीत लहर
शीत लहर
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
बरगद का दरख़्त है तू
बरगद का दरख़्त है तू
Satish Srijan
उड़ता लेवे तीर
उड़ता लेवे तीर
Sadanand Kumar
हाय रे महंगाई
हाय रे महंगाई
Shekhar Chandra Mitra
When you realize that you are the only one who can lift your
When you realize that you are the only one who...
Manisha Manjari
द माउंट मैन: दशरथ मांझी
द माउंट मैन: दशरथ मांझी
साहित्य लेखन- एहसास और जज़्बात
~~बस यूँ ही~~
~~बस यूँ ही~~
Dr Manju Saini
"भक्त नरहरि सोनार"
Pravesh Shinde
बस रह जाएंगे ये जख्मों के निशां...
बस रह जाएंगे ये जख्मों के निशां...
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
वक्त बनाये, वक्त ही,  फोड़े है,  तकदीर
वक्त बनाये, वक्त ही, फोड़े है, तकदीर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हाइकु:(लता की यादें!)
हाइकु:(लता की यादें!)
Prabhudayal Raniwal
सत्य विचार (पंचचामर छंद)
सत्य विचार (पंचचामर छंद)
Rambali Mishra
जिन्दगी जुगनुओं के जैसे झिलमिल लगती है।
जिन्दगी जुगनुओं के जैसे झिलमिल लगती है।
Taj Mohammad
■ समझाइश...
■ समझाइश...
*Author प्रणय प्रभात*
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
Dr Archana Gupta
💐Prodigy Love-42💐
💐Prodigy Love-42💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
सुई-धागा को बनाया उदरपोषण का जरिया
सुई-धागा को बनाया उदरपोषण का जरिया
Shyam Hardaha
हाइकु कविता
हाइकु कविता
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
दिवाली
दिवाली
Aditya Prakash
फितरत
फितरत
दशरथ रांकावत 'शक्ति'
*खुशी  (मुक्तक)*
*खुशी (मुक्तक)*
Ravi Prakash
अभागीन ममता
अभागीन ममता
ओनिका सेतिया 'अनु '
दुःखडा है सबका अपना अपना
दुःखडा है सबका अपना अपना
gurudeenverma198
हम रंगों से सजे है
हम रंगों से सजे है
'अशांत' शेखर
माँ
माँ
विशाल शुक्ल
Loading...