Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 2, 2021 · 1 min read

जानते हैं कि बरसात क्या होती है

जानते हैं कि बरसात क्या होती है
जब किसी किसान के खेत से
फसल काट कर घर ले जाई जाती है।
उसकी बीबी प्यार से उसको सुंगा रही होती है
एक प्यारी सी बिटिया श्रम करते हुए
अपने पापा को निहार रही होती है।
जब तोतली बोली में पापा थक गए होंगे कहती है
बरसात वो होती है एक मासूम भोली सी बिटिया के स्नेह की।
जानते हैं बरसात क्या होती है
जब पसीने से लथपथ पढ़कर ,
बोझिल बस्ता लेकर
आती है घर परी पापा की।
मां देखते ही उसका दूर से थाम लेती है बस्ता
और उठा लेती है चूमकर माथा
बरसात वो होती है
जब बेटी प्यार से मां को पुच्ची देकर कहती है
आपकी स्कूल में बहुत याद आती है मम्मा।
जानते हैं बरसात क्या होती है
जब लिपट कर तिरंगे में
कोई शहीद आता है वापस अपने घर।
असंख्य आंखों से बहता अश्रु शैलाव।
कहता है सारा गांव अलविदा
बरसात तब होती है
जब बूढ़ा पिता उसकी चिता को लगाता है आग।
रेखा बरसात क्या होती है।

1 Like · 2 Comments · 160 Views
You may also like:
बेजुबान
Dhirendra Panchal
समझता है सबसे बड़ा हो गया।
सत्य कुमार प्रेमी
कन्यादान लिखना भी कहानी हो गई
VINOD KUMAR CHAUHAN
दर्द की कश्ती
DESH RAJ
एक कसम
shabina. Naaz
रामे क बरखा ह रामे क छाता
Dhirendra Panchal
हम भी नज़ीर बन जाते।
Taj Mohammad
कमर तोड़ता करधन
शेख़ जाफ़र खान
इश्क़ नहीं हम
Varun Singh Gautam
कहाँ तुम पौन हो
Pt. Brajesh Kumar Nayak
श्राप महामानव दिए
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पैसों का खेल
AMRESH KUMAR VERMA
मैं तेरी आशिकी
DR ARUN KUMAR SHASTRI
क्या लिखूं मैं मां के बारे में
Krishan Singh
बरसात
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग६]
Anamika Singh
✍️इरादे हो तूफाँ के✍️
'अशांत' शेखर
समय..
Dr. Rajendra Singh 'Rahi'
आख़िरी मुलाक़ात ghazal by Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
समझ में आयेगी
Dr fauzia Naseem shad
*"पिता"*
Shashi kala vyas
जानें किसकी तलाश है।
Taj Mohammad
भारत माँ के वीर सपूत
Kanchan Khanna
पत्ते
Saraswati Bajpai
मेरी बेटी मेरी सहेली
लक्ष्मी सिंह
पिता
Meenakshi Nagar
कोशिश करने वालों की हार नहीं होती हैं
DR ARUN KUMAR SHASTRI
कविता 100 संग्रह
श्याम सिंह बिष्ट
गुरु-पूर्णिमा पर...!!
Kanchan Khanna
प्रश्न पूछता है यह बच्चा
अटल मुरादाबादी, ओज व व्यंग कवि
Loading...