Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#5 Trending Author
Jun 21, 2022 · 1 min read

ज़िंदा हूं मरा नहीं हूं।

कोई बतादे उनसे कि अभी मैं जिंदा हूं मरा नहीं हूं।
कभी-कभी आफताब भी बादलों में खो जाता है।।

✍✍ताज मोहम्मद✍✍

1 Like · 2 Comments · 60 Views
You may also like:
एक सुबह की किरण
Deepak Baweja
तुम ख़्वाबों की बात करते हो।
Taj Mohammad
इश्क की तिशनगी है।
Taj Mohammad
ममता
Rashmi Sanjay
वाक्य से पोथी पढ़
शेख़ जाफ़र खान
तुम मेरे नसीब मे न थे
Anamika Singh
ईश्वरीय फरिश्ता पिता
AMRESH KUMAR VERMA
हमारे जीवन में "पिता" का साया
इंजी. लोकेश शर्मा (लेखक)
भारत माँ के वीर सपूत
Kanchan Khanna
आया सावन - पावन सुहवान
Rj Anand Prajapati
संस्मरण:भगवान स्वरूप सक्सेना "मुसाफिर"
Ravi Prakash
बहुत हुशियार हो गए है लोग
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
"आम की महिमा"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
शिखर छुऊंगा एक दिन
AMRESH KUMAR VERMA
"अल्फाज़ कहां से लाते हो"। सिर्फ ओ सिर्फ "अशांत"शेखर जी...
Taj Mohammad
दीवार में दरार
VINOD KUMAR CHAUHAN
पाँव में छाले पड़े हैं....
डॉ.सीमा अग्रवाल
✍️✍️जरी ही...!✍️✍️
'अशांत' शेखर
इन तन्हाइयों में तुम्हारी याद आयेगी
Ram Krishan Rastogi
ख्वाब
Harshvardhan "आवारा"
गुलमोहर
Ram Krishan Rastogi
यही है मेरा ख्वाब मेरी मंजिल
gurudeenverma198
प्रदीप : श्री दिवाकर राही का हिंदी साप्ताहिक
Ravi Prakash
ठोकर तमाम खा के....
अश्क चिरैयाकोटी
दर्पण!
सेजल गोस्वामी
महान गुरु श्री रामकृष्ण परमहंस की काव्यमय जीवनी (पुस्तक-समीक्षा)
Ravi Prakash
जबसे मुहब्बतों के तरफ़दार......
अश्क चिरैयाकोटी
चुप रहने में।
Taj Mohammad
महाराणा प्रताप
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
खफा है जिन्दगी
Anamika Singh
Loading...