Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 28, 2022 · 1 min read

जलवा ए अफ़रोज़।

इस चिलमन को अब रुख से जरा हटा।
जलवा ए अफरोज हो तू पर्दा जरा उठा।।

तुझे तेरे खूबसूरत इस हुस्न का वास्ता।
कुछ नजरे इनायत हमपे भी करदे अता।।

✍️✍️ ताज मोहम्मद ✍️✍️

1 Like · 4 Comments · 64 Views
You may also like:
" छुपी प्रतिभा "
DrLakshman Jha Parimal
✍️ये भी अज़ीब है✍️
'अशांत' शेखर
कहो अब और क्या चाहें
VINOD KUMAR CHAUHAN
"हर घर तिरंगा"देश भक्ती गीत
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
धुँध
Rekha Drolia
रात गहरी हो रही है
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
*** वीरता
Prabhavari Jha
असतो मा सद्गमय
Kanchan Khanna
संसर्ग मुझमें
Varun Singh Gautam
आत्महत्या क्यों ?
Anamika Singh
✍️✍️गांधी✍️✍️
'अशांत' शेखर
"शौर्यम..दक्षम..युध्धेय, बलिदान परम धर्मा" अर्थात- बहादुरी वह है जो आपको...
Lohit Tamta
*तिरंगा लहर-लहर लहराता (देशभक्ति गीत)*
Ravi Prakash
"साहिल"
Dr.Alpa Amin
'विश्व जनसंख्या दिवस'
Godambari Negi
पिता पच्चीसी दोहावली
Subhash Singhai
इतना तय है
Dr fauzia Naseem shad
✍️करम✍️
'अशांत' शेखर
कभी तो तुम मिलने आया करो
Ram Krishan Rastogi
प्रकृति
DR ARUN KUMAR SHASTRI
"आम की महिमा"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
लोकसभा की दर्शक-दीर्घा में एक दिन: 8 जुलाई 1977
Ravi Prakash
अधूरी सी प्रेम कहानी
Seema Tuhaina
अति का अंत
AMRESH KUMAR VERMA
✍️निज़ाम✍️
'अशांत' शेखर
जिन्दगी का नया अंदाज
Anamika Singh
मील का पत्थर
Anamika Singh
चोरी चोरी छुपके छुपके
gurudeenverma198
मैं आज की बेटी हूं।
Taj Mohammad
महबूब ए इश्क।
Taj Mohammad
Loading...