Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Oct 18, 2016 · 1 min read

जयबालाजी; चक्र सुदर्शन ने जब रोका :: जितेन्द्र कमल आनंद ( पोस्ट३४)

ताटंक ३४

चक्र सुदर्शन ने जब रोका उसको मुखमें ग्रहण किया
पूर्व गरुणके ,पहुँच द्वारिका , अहम् चूर कर सबक दिया
मुदित हुए तब राम अापके, कृष्ण और को थे, बाला !
भार द्वारिकापुरी – द्वारकी रक्षाका तुम पर डाला।।३४!!
—- जितेन्द्रकमल आनंद

195 Views
You may also like:
एक आवाज़ पर्यावरण की
Shriyansh Gupta
सुविचारों का स्वागत है
नवीन जोशी 'नवल'
वो बरगद का पेड़
Shiwanshu Upadhyay
(((मन नहीं लगता)))
दिनेश एल० "जैहिंद"
"दोस्त-दोस्ती और पल"
Lohit Tamta
"एक नई सुबह आयेगी"
Ajit Kumar "Karn"
जाने कहां वो दिन गए फसलें बहार के
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
राम नाम जप ले
Swami Ganganiya
*तजकिरातुल वाकियात* (पुस्तक समीक्षा )
Ravi Prakash
* तुम्हारा ऐहसास *
Dr. Alpa H. Amin
सहारा
अरशद रसूल /Arshad Rasool
♡ भाई-बहन का अमूल्य रिश्ता ♡
Dr. Alpa H. Amin
विश्व पृथ्वी दिवस
Dr Archana Gupta
लौट आई जिंदगी बेटी बनकर!
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
दिल की सुनाएं आप जऱा लौट आइए।
सत्य कुमार प्रेमी
*!* दिल तो बच्चा है जी *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
मौसम
AMRESH KUMAR VERMA
निशां मिट गए हैं।
Taj Mohammad
अति का अंत
AMRESH KUMAR VERMA
पिता का प्यार
pradeep nagarwal
🌺🌺🌺शायद तुम ही मेरी मंजिल हो🌺🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
फिर कभी तुम्हें मैं चाहकर देखूंगा.............
Nasib Sabharwal
नर्सिंग दिवस पर नमन
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
जिंदगी: एक संघर्ष
Aditya Prakash
प्यार
Satish Arya 6800
रेत समाधि : एक अध्ययन
Ravi Prakash
दो दिलों का मेल है ये
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
# महकता बदन #
DR ARUN KUMAR SHASTRI
आध्यात्मिक गंगा स्नान
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
काश मेरा बचपन फिर आता
Jyoti Khari
Loading...