Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#1 Trending Author
Jul 25, 2022 · 1 min read

जब पिया घर नही आए

साजन मेरे नहीं आए,
मेरा सावन सूखा जाए।
मै क्या करू राम अब,
जब पिया घर नहीं आए।।

उमड़ घुमड़ कर बदरा आए,
प्यासी धरती की प्यास बुझाए।
मेरी प्यास अब कौन बुझाए ?
जब पिया मेरे घर नहीं आए।।

झूले पड़ गए है बागन में,
कोयल कूके मेरे कानन में।
मुझे अब कौन झुलाए ?
जब पिया घर नहीं आए।।

मनरा गली में आयो है,
चूड़ी सबको पहनायो है।
मै चूड़ी कैसे पहनूं रे ?
जब पिया घर न आयो है।।

सज धज के सखियां आई हैं,
मुझे बुलाने वे सब आईं हैं।
मै जाऊं उनके कैसे साथ ?
जब पिया घर नहीं आयो है।।

रात अंधेरी आईं हैं,
निंदिया मुझे न आई हैं
मै सोऊ किसके साथ ?
जब पिया घर न आए है।।

सावन में पिया से दूरी,
ये कैसी मेरी मजबूरी।
इसको समझ वहीं पायो है।
जिसके पिया घर न आयो है।।

आर के रस्तोगी
गुरुग्राम

,

2 Likes · 2 Comments · 145 Views
You may also like:
प्रेम
श्रीहर्ष आचार्य
दिल लगाऊं कहां
Kavita Chouhan
"मातल "
DrLakshman Jha Parimal
✍️एक ना हुए साकार✍️
"अशांत" शेखर
कोई खामोशियां नहीं सुनता
Dr fauzia Naseem shad
✍️तर्क✍️
"अशांत" शेखर
मुझे चाहत हैं तेरी.....
Dr.Alpa Amin
काँटा और गुलाब
Anamika Singh
✍️हलाल✍️
"अशांत" शेखर
“ मेरे राम ”
DESH RAJ
कौन आएगा
Dhirendra Panchal
ऊंची शिखर की उड़ान
AMRESH KUMAR VERMA
रात गहरी हो रही है
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
नहीं हंसी का खेल
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
बेपरवाह बचपन है।
Taj Mohammad
आकार ले रही हूं।
Taj Mohammad
अंतरराष्ट्रीय मित्रता पर दोहे
Ram Krishan Rastogi
'जियो और जीने दो'
Godambari Negi
कृतिकार पं बृजेश कुमार नायक की कृति /खंड काव्य/शोधपरक ग्रंथ...
Pt. Brajesh Kumar Nayak
"याद आओगे"
Ajit Kumar "Karn"
महसूस करो
Dr fauzia Naseem shad
उमीद-ए-फ़स्ल का होना है ख़ून लानत है
Anis Shah
खोकर के अपनो का विश्वास ।....(भाग - 3)
Buddha Prakash
क्यों कहाँ चल दिये
gurudeenverma198
भटकता चाँद
Alok Saxena
कुछ पल का है तमाशा
Dr fauzia Naseem shad
"मैं पाकिस्तान में भारत का जासूस था" किताबवाले महान जासूस...
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मेरी रातों की नींद क्यों चुराते हो
Ram Krishan Rastogi
पिता पच्चीसी दोहावली
Subhash Singhai
" PILLARS OF FRIENDSHIP "
DrLakshman Jha Parimal
Loading...