Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#27 Trending Author
May 21, 2022 · 1 min read

जगत के स्वामी

शिव की आराध्य भक्त
जो करे तन मन से पूजा
उसकी हर एक मन्नत
होती पूर्ण इस जगत में ।

तीनों लोकों के स्वामी
शिव ही हैं इस जग में
इनका आराध्य हर पंथी
खुशहाल रहता जग में ।

जिनके हस्त में रहते हय
सदा डमरू, त्रिशूल सवार
जिनके शिरोधरा में हमेशा
रहते भुजंग सदा विराजमान ।

जिनके सुत दो इस जग में
जिनका नाम गणेश, कार्तिक
आराध्य जिसकी थी भवानी
वही इस जगत स्वामी ।

51 Views
You may also like:
*पार्क में योग (कहानी)*
Ravi Prakash
नियमित दिनचर्या
AMRESH KUMAR VERMA
फ़ासला
मनोज कर्ण
Even If I Ever Died
Manisha Manjari
चित्कार
Dr Meenu Poonia
भाग्य का फेर
ओनिका सेतिया 'अनु '
यूं रो कर ना विदा करो।
Taj Mohammad
अर्धनारीश्वर की अवधारणा...?
मनोज कर्ण
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है [भाग२]
Anamika Singh
शहीद की बहन और राखी
DESH RAJ
प्रकृति का क्रोध
Anamika Singh
खुशबू चमन की किसको अच्छी नहीं लगती।
Taj Mohammad
इतना शौक मत रखो इन इश्क़ की गलियों से
Krishan Singh
जीवनदाता वृक्ष
AMRESH KUMAR VERMA
ना वो हवा ना वो पानी है अब
VINOD KUMAR CHAUHAN
अगर तुम खुश हो।
Taj Mohammad
भारतीय संस्कृति के सेतु आदि शंकराचार्य
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
💐साधकस्य निष्ठा एव कल्याणकर्त्री💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
जवानी
Dr.sima
बस एक निवाला अपने हिस्से का खिला कर तो देखो।
Gouri tiwari
शहीद रामचन्द्र विद्यार्थी
Jatashankar Prajapati
गांव के घर में।
Taj Mohammad
मेहरबानी
"अशांत" शेखर
नए जूते
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
ग़ज़ल
Mukesh Pandey
कराहती धरती (पृथ्वी दिवस पर)
डॉ. शिव लहरी
"कर्मफल
Vikas Sharma'Shivaaya'
जीवन
vikash Kumar Nidan
【26】**!** हम हिंदी हम हिंदुस्तान **!**
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
ऐसे तो ना मोहब्बत की जाती है।
Taj Mohammad
Loading...