Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Jul 2022 · 1 min read

चुनिंदा अशआर

दर्द-ए-एहसास ही पता देगा ।
ज़िंदगी के करीब कितने हैं ।।

नफ़रतो को कुछ ऐसा मोड़ दिया ।
सिलसिला ख़्वाब का भी तोड़ दिया ।।

जानता है वही जो इसको ढोता है ।
कितना भारी गरीबी का बोझ होता है ।।

यूं ही मसरूफ़ हम नहीं रहते ।
आपको याद भी तो करते हैं ।।

जानता है वही जो इस दर्द से गुज़रता है ।
एक ज़िंदगी में कोई कितनी मौत मरता है ।।

आप से हम अगर फिर से ।
आप मेरे लिए दुआ करना ।।

मायने मौत के नहीं कुछ भी ।
आज भी ज़िंदगी से डरते हैं ।।

दुनिया की कोई दौलत
फिर काम न आये ।
वक़्त की मुट्ठी से जब
वक़्त फ़िसल जाए ।।

किसी के मेयार पर उतरना ही काफी नहीं ।
खुद की नज़रों में भी हो क़ीमत आपकी ।।

किसी के वास्ते इसे ऐसे ही न हार दो ।
ज़िंदगी को जीने के मौके हज़ार दो ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

Language: Hindi
Tag: शेर
6 Likes · 1 Comment · 142 Views
You may also like:
चेहरे पर कई चेहरे ...
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
सरकारी नौकरी वाली स्नेहलता
Dr Meenu Poonia
काली सी बदरिया छाई...
मनमोहन लाल गुप्ता 'अंजुम'
पन्नें
Abhinay Krishna Prajapati
प्यार तुम मीत मेरे हो
Buddha Prakash
आखरी उत्तराधिकारी
Prabhudayal Raniwal
कुछ सवाल
manu sweta sweta
हमारा दिल।
Taj Mohammad
✍️रात साजिशों में है✍️
'अशांत' शेखर
आशाओं के दीप.....
Chandra Prakash Patel
अनसुनी~प्रेम कहानी
bhandari lokesh
पापा की परी...
Sapna K S
भाईजान की बात
AJAY PRASAD
✍️लक्ष्य ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
कोरोना - इफेक्ट
Kanchan Khanna
जूतों की मन की व्यथा
Ram Krishan Rastogi
ग़ज़ल
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
एक ज़िंदगी में
Dr fauzia Naseem shad
हसद
Alok Saxena
कहो अब और क्या चाहें
VINOD KUMAR CHAUHAN
अधूरी चाहत
Faza Saaz
247. "पहली पहली आहट"
MSW Sunil SainiCENA
आँखों में पूरा समंदर छिपाये बैठे है,
डी. के. निवातिया
मीठी-मीठी बातें
AMRESH KUMAR VERMA
सीख
Anamika Singh
*विलक्षण प्रतिभा के धनी साहित्यकार श्री शंकर दत्त पांडे*
Ravi Prakash
गदा हनुमान जी की
AJAY AMITABH SUMAN
Shyari
श्याम सिंह बिष्ट
💐प्रेम की राह पर-33💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
प्रेम का गीत ही, हर जुबान पर गाया जाए
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...