Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#9 Trending Author
Apr 15, 2022 · 1 min read

चांदनी में बैठते हैं।

आ चल चांद की चाँदनी में बैठते है।
तेरी जुल्फों की शायबानी में बैठते है।।1।।

तुम्हें क्या पता तुम क्या हो मेरे लिए।
तुमको खुदा की निशानी में देखते है।।2।।

तुम मदद करके जताते नहीं यूँ कभी।
तुम्हारा अंदाज मेहरबानी में देखते है।।3।।

खुदा नें खुद तराशा है तुम्हें हाथों से।
कारीगरी तेरी हूरें जवानी में देखते है।।4।।

तेरा इबादत ए चेहरा बड़ा ही सुर्ख है।
खुदाई चमक हम पेशानी में देखते है।।5।।

तजुर्बा है बड़ी चीज यूँ हर काम का।
जहां का हुनर दादी नानी में देखते है।।6।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

73 Views
You may also like:
ऐतबार नहीं करना!
Mahesh Ojha
जीतने की उम्मीद
AMRESH KUMAR VERMA
मेरा गुरूर है पिता
VINOD KUMAR CHAUHAN
जग
AMRESH KUMAR VERMA
मेरे पापा!
Anamika Singh
सावन ही जाने
शेख़ जाफ़र खान
प्रेमानुभूति भाग-1 'प्रेम वियोगी ना जीवे, जीवे तो बौरा होई।’
पंकज 'प्रखर'
✍️प्रकृति के नियम✍️
"अशांत" शेखर
✍️एक आफ़ताब ही काफी है✍️
"अशांत" शेखर
✍️KITCHEN✍️
"अशांत" शेखर
शादी से पहले और शादी के बाद
gurudeenverma198
इब्ने सफ़ी
DR ARUN KUMAR SHASTRI
दीप तुम प्रज्वलित करते रहो।
Taj Mohammad
यादों से दिल बहलाना हुआ
N.ksahu0007@writer
हर साल क्यों जलाए जाते हैं उत्तराखंड के जंगल ?
Deepak Kohli
" सूरजमल "
Dr Meenu Poonia
दलीलें झूठी हो सकतीं हैं
सिद्धार्थ गोरखपुरी
जावेद कक्षा छः का छात्र कला के बल पर कई...
Shankar J aanjna
तुम थे पास फकत कुछ वक्त के लिए।
Taj Mohammad
बंदर मामा गए ससुराल
Manu Vashistha
#udhas#alone#aloneboy#brokenheart
Dalvir Singh
भगवान विरसा मुंडा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
अफसोस-कर्मण्य
Shyam Pandey
दूध होता है लाजवाब
Buddha Prakash
बुरी आदत
AMRESH KUMAR VERMA
उड़ जाएगा एक दिन पंछी, धुआं धुआं हो जाएगा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बर्षा रानी जल्दी आओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मैं पिता हूँ
सूर्यकांत द्विवेदी
" हाथी गांव "
Dr Meenu Poonia
कड़वा सच
Rakesh Pathak Kathara
Loading...