Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
7 Mar 2024 · 1 min read

चाँदनी …..

चाँदनी ,,,,,,,

चमकने लगे हैं
केशों में
चाँदी के तार
शायद
उम्र के सफर का है ये
आखिरी पड़ाव

थोड़ा जलता
थोड़ा बुझता
साँसों का अलाव

क्षितिज पर साँझ की लाली
थक गया
शायद
सफर में
सफर का माली

पर आज भी वो
धुंधले अरमानों की
छोटी सी खिड़की में
वैसी ही दिखती है
जैसी पहले थी
चाहत के
पहले पड़ाव पर चमकती
पूनम के चाँद की
हसीन चाँदनी

सुशील सरना/7-3-24

44 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
बड़ी अजब है प्रीत की,
बड़ी अजब है प्रीत की,
sushil sarna
ग़ज़ल
ग़ज़ल
Phool gufran
प्रकृति के फितरत के संग चलो
प्रकृति के फितरत के संग चलो
Dr. Kishan Karigar
■ और एक दिन ■
■ और एक दिन ■
*प्रणय प्रभात*
*पद के पीछे लोग 【कुंडलिया】*
*पद के पीछे लोग 【कुंडलिया】*
Ravi Prakash
मोल
मोल
विनोद वर्मा ‘दुर्गेश’
हिन्दी में ग़ज़ल की औसत शक़्ल? +रमेशराज
हिन्दी में ग़ज़ल की औसत शक़्ल? +रमेशराज
कवि रमेशराज
श्वेत पद्मासीना माँ शारदे
श्वेत पद्मासीना माँ शारदे
Saraswati Bajpai
उम्मीद की नाव
उम्मीद की नाव
Karuna Goswami
लघुकथा-
लघुकथा- "कैंसर" डॉ तबस्सुम जहां
Dr Tabassum Jahan
आ रही है लौटकर अपनी कहानी
आ रही है लौटकर अपनी कहानी
Suryakant Dwivedi
आड़ी तिरछी पंक्तियों को मान मिल गया,
आड़ी तिरछी पंक्तियों को मान मिल गया,
Satish Srijan
मुकद्दर से ज्यादा
मुकद्दर से ज्यादा
rajesh Purohit
एक मंज़र कशी ओस के संग 💦💦
एक मंज़र कशी ओस के संग 💦💦
Neelofar Khan
मुझे तो मेरी फितरत पे नाज है
मुझे तो मेरी फितरत पे नाज है
नेताम आर सी
आप को मरने से सिर्फ आप बचा सकते हैं
आप को मरने से सिर्फ आप बचा सकते हैं
पूर्वार्थ
बना चाँद का उड़न खटोला
बना चाँद का उड़न खटोला
Vedha Singh
"द्रौपदी का चीरहरण"
Ekta chitrangini
शीर्षक - खामोशी
शीर्षक - खामोशी
Neeraj Agarwal
कहां  गए  वे   खद्दर  धारी  आंसू   सदा   बहाने  वाले।
कहां गए वे खद्दर धारी आंसू सदा बहाने वाले।
कुंवर तुफान सिंह निकुम्भ
यादों के छांव
यादों के छांव
Nanki Patre
दलित साहित्य के महानायक : ओमप्रकाश वाल्मीकि
दलित साहित्य के महानायक : ओमप्रकाश वाल्मीकि
Dr. Narendra Valmiki
अलविदा कहने से पहले
अलविदा कहने से पहले
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
"याद"
Dr. Kishan tandon kranti
Neet aspirant suicide in Kota.....
Neet aspirant suicide in Kota.....
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
एहसास दे मुझे
एहसास दे मुझे
Dr fauzia Naseem shad
*रक्तदान*
*रक्तदान*
Dushyant Kumar
पहला श्लोक ( भगवत गीता )
पहला श्लोक ( भगवत गीता )
Bhupendra Rawat
दोहे बिषय-सनातन/सनातनी
दोहे बिषय-सनातन/सनातनी
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
हाय गरीबी जुल्म न कर
हाय गरीबी जुल्म न कर
कृष्णकांत गुर्जर
Loading...