Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Apr 18, 2022 · 1 min read

चलों मदीने को जाते हैं।

चलों मदीने को जाते है।
दुआओं का असर लेकर आते है।।1।।

सुना है दर है खुदा का।
तमां सुकूं वहां पे जीकर आते है।।2।।

नशा है वहां खुदाई का।
हम सब मदहोश होकर आते है।।3।।

आबे जमजम है वहां पे।
यूं जाम पे जाम पीकर आते है।।4।।

पैदा तो ना हुए मदीने में।
पर वहां मरके हश्र को जाते है।।5।।

अपनी इबादत में शायद।
हम भी रसूले खुदा को पाते है।।6।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

1 Like · 2 Comments · 88 Views
You may also like:
✍️किसान की आत्मकथा✍️
'अशांत' शेखर
करते है प्यार कितना ,ये बता सकते नही हम
Ram Krishan Rastogi
अब कैसे कहें तुमसे कहने को हमारे हैं।
सत्य कुमार प्रेमी
सच को ज़िन्दा
Dr fauzia Naseem shad
तेरी हर बात सनद है, हद है
Anis Shah
बंदिशे तमाम मेरे हक़ में ...........
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
✍️तुम पुकार लो..!✍️
'अशांत' शेखर
फेहरिस्त।
Taj Mohammad
गुमनाम मुहब्बत का आशिक
श्री रमण 'श्रीपद्'
ऐसे तो ना मोहब्बत की जाती है।
Taj Mohammad
पत्ते
Saraswati Bajpai
काँटा और गुलाब
Anamika Singh
जिन्दगी है की अब सम्हाली ही नहीं जाती है ।
Buddha Prakash
✍️थोडा रूमानी हो जाते...✍️
'अशांत' शेखर
दिल को तेरी तमन्ना
Dr fauzia Naseem shad
हमारा दिल।
Taj Mohammad
प्यार करने की कभी कोई उमर नही होती
Ram Krishan Rastogi
झुलसता पर्यावरण / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
*जिनको डायबिटीज (हास्य कुंडलिया)*
Ravi Prakash
साथ समय के चलना सीखो...
डॉ.सीमा अग्रवाल
ख्वाब
Anamika Singh
कब तुम?
Pradyumna
निगहबानी।
Taj Mohammad
वो हमें दिन ब दिन आजमाते रहे।
सत्य कुमार प्रेमी
खुद को बहला रहे हैं।
Taj Mohammad
आखिरी पड़ाव
DESH RAJ
सेहरा गीत परंपरा
Ravi Prakash
मैं परछाइयों की भी कद्र करता हूं
VINOD KUMAR CHAUHAN
✍️✍️पुन्हा..!✍️✍️
'अशांत' शेखर
प्रेम की परिभाषा
Nitu Sah
Loading...