Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 26, 2022 · 1 min read

“ गोलू क जन्म दिन “

डॉ लक्ष्मण झा “ परिमल “
====================
मालिक ! आहाँ सभक
जन्म दिन मनबैत छी ,
सभक लेल सुंदर सुंदर
कैक आहाँ बनबैत छी !
आसपड़ोस संगीसाथी
लोक सब केँ बजबैत छी ,
राति भरि डी 0 जे 0 केँ
धुन पर नाचैत छी !!
हम की अपराध आहाँ
सँगें कहियो की केने छी ?
राति राति जागि केँ
अहर निशि पहरा देने छी !
आहाँकें जानमाल घर
आँगनक रक्षा हम केने छी ,
अपन कर्तव्यपरायणताक
प्रतिभा हम देखेने छी !!
नहि कहियो हम कोनो
भार आइ धरि देने छी ,
कपड़ालत्ता बिछाऔँनक
चर्चा तक नहि केने छी !
ठंड,बरसात, गर्मी ,
आँधी तूफान तक झेलने छी ,
सब काज क आदेश पर
सम्पादन हम केने छी !!
नहि दरमाहा नहि कोनो
डी 0 ए 0 हमरा चाहि ,
दू कौर भोजनक सब
दिन हमरा व्यवस्था चाहि !
प्रेमक हम भुखल छी
बस तकरे इ उपहार चाहि ,
भेद भाव सँ की करबे
हमरा त बस प्यार चाहि !!
बिलाई महिस केँ जखन
जन्म दिन मनबैत छी ,
ओकर लेल पाँच किलो क
कैक आहाँ काटैत छी !
सोशल मीडिया मे
भाँति -भाँति पोस्ट करैत छी ,
हमहूँ त आहाँक रक्षाक लेल
राति दिन मरैत छी !!
हमहूँ त आहाँक परिवारक
लोक छी मानि लिय ,
वफादार कुकुर भेलहूँ
हमरो कनि पहचानि लिय !
जन्मदिन केँ अवसर पर
हमरा अपन स्नेह दिय ,
जन्म जन्म धरि श्रेष्ठ
बनक लेल सम्मान लिय !!
====================
डॉ लक्ष्मण झा “ परिमल “
साउन्ड हेल्थ क्लिनिक
एस 0 पी 0 कॉलेज रोड
दुमका
झारखंड
भारत
26.06.2022.

47 Views
You may also like:
" IDENTITY "
DrLakshman Jha Parimal
✍️मोहब्बत की राह✍️
'अशांत' शेखर
नाथूराम गोडसे
Anamika Singh
बँटवारे का दर्द
मनोज कर्ण
मां का आंचल
VINOD KUMAR CHAUHAN
समझे ये हमको
Dr fauzia Naseem shad
ममता
Rashmi Sanjay
मेरा कृष्णा
Rakesh Bahanwal
श्रमिक जो हूँ मैं तो...
मनोज कर्ण
'फौजी होना आसान नहीं होता"
Lohit Tamta
एकाकीपन
Rekha Drolia
शायरी संग्रह
श्याम सिंह बिष्ट
✍️कोई बैर नहीं है✍️
'अशांत' शेखर
आस्तित्व नही बदलता है!
Anamika Singh
रोग ने कितना अकेला कर दिया
Dr Archana Gupta
मदहोश रहे सदा।
Taj Mohammad
*हम आजाद होकर रहेंगे (कहानी)*
Ravi Prakash
विरह का सिरा
Rashmi Sanjay
हर इक वादे पर।
Taj Mohammad
चम्पा पुष्प से भ्रमर क्यों दूर रहता है
Subhash Singhai
चाहतें है राहतें है।
Taj Mohammad
" REAL APPLICATION OF PUNCTUALITY "
DrLakshman Jha Parimal
कभी कभी।
Taj Mohammad
सुभाष चंद्र बोस
Anamika Singh
शेर
dks.lhp
बेदर्दी बालम
Anamika Singh
क्रांतिवीर हेडगेवार*
Ravi Prakash
सोचो जो बेटी ना होती
लक्ष्मी सिंह
मानव तन
Rakesh Pathak Kathara
*ए फॉर एप्पल (लघुकथा)*
Ravi Prakash
Loading...