Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 28, 2022 · 1 min read

गुुल हो गुलशन हो

गुल हो कि गुलशन हो या गुलजार हो तुम
महकती फिज़ाँ जिंदगी की बहार हो तुम
गुल हो गुलशन हो………
ख्वाबों खयालों में ढूंडता रहा मैं जिसको
मेरे दिल की धड़कन में बसा प्यार हो तुम
गुल हो गुलशन हो……….
जिंदगी खुशनुमा है रहे अगर ये साथ तेरा
मेरी सांसों की वीणा का एक तार हो तुम
गुल हो गुलशन हो………..
बही जा रही है जिंदगी वक्त के दरिया में
मेरी लड़खड़ाती नॉव की पतवार हो तुम
गुल हो गुलशन हो…………
“विनोद”साथ देना मेरा जिंदगी में हरदम
मेरी दूनिया मेरा जहाँ मेरा संसार हो तुम
गुल हो गुलशन हो………….

1 Like · 46 Views
You may also like:
विधाता
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
पिता मेरे /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
कहानियां
Alok Saxena
बेवफ़ा कहलाए है।
Taj Mohammad
मायके की धूप रे
Rashmi Sanjay
जीवन की तलाश
Taran Singh Verma
"एक यार था मेरा"
Lohit Tamta
पैसा
Arjun Chauhan
किताब
Seema 'Tu haina'
✍️✍️रब्त✍️✍️
'अशांत' शेखर
नफरत
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
" कोरोना "
Dr Meenu Poonia
हृदय का सरोवर
सुनील कुमार
सद्आत्मा शिवाला
Pt. Brajesh Kumar Nayak
भली बातें
Dr. Sunita Singh
बहुत हैं फायदे तुमको बतायेंगे मुहब्बत से।
सत्य कुमार प्रेमी
प्यारा तिरंगा
ओनिका सेतिया 'अनु '
आतुरता
अंजनीत निज्जर
ओ भोले भण्डारी
Anamika Singh
तप रहे हैं दिन घनेरे / (तपन का नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
दिल में उतरते हैं।
Taj Mohammad
कातिलाना अदा है।
Taj Mohammad
तलाश
Seema 'Tu haina'
मैं हैरान हूं।
Taj Mohammad
कई चेहरे होते है।
Taj Mohammad
आत्मज्ञान
Shyam Sundar Subramanian
✍️व्हाट्सअप यूनिवर्सिटी✍️
'अशांत' शेखर
चाहत की हद।
Taj Mohammad
ओ जानें ज़ाना !
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
बताकर अपना गम।
Taj Mohammad
Loading...