Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Jul 2016 · 1 min read

“गीत”

यदि पुष्प तेरी कामना |
तो शूल भी स्वीकारना |

आगे अचल पहाड़ हो
पर हार तुम मत मानना
मत मौन हो संग्राम में
बन सिंह तुम ललकारना |
यदि……

निज राह के रोड़े चुनो
रस्ते भी खुद ही तुम बुनो
पीछे कभी मत लौटना
बढ़ तुंग पर अधिकारना |
यदि…….

सेवा में जीवन झोंक दे
हर गल्तियों को टोंक दे
छाया मिले या धूप ही
उपकार को रफ्तारना |
यदि……

हो दिन हो या के रात हो
तुम देश को संवारना
बौना करो क़द शत्रु का’ अब
तुम टूटकर फटकारना |
गति मंद तुम करना नहीं
रफ्तार में ही भागना |
यदि …….

Language: Hindi
Tag: गीत
3 Comments · 362 Views
You may also like:
मजदूर।
Anil Mishra Prahari
भटका दिया जिंदगी ने मुझे
Kaur Surinder
✍️ये जरुरी नहीं✍️
'अशांत' शेखर
रहस्यमय तहखाना - कहानी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
जय श्री महाकाल सबको, उज्जैयिनी में आमंत्रण है
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मौत शर्मिंदा हो भी सकती है
Dr fauzia Naseem shad
जिन्दगी को ख़राब कर रहे हैं।
Taj Mohammad
रस्म
जय लगन कुमार हैप्पी
घर की रानी
Kanchan Khanna
दांतो का सेट एक ही था
Ram Krishan Rastogi
आग से खेलने की हिम्मत
Shekhar Chandra Mitra
दोष दृष्टि क्या है ?
Shivkumar Bilagrami
कविता : 15 अगस्त
Prabhat Pandey
तुम न आये मगर..
लक्ष्मी सिंह
दोहे भगवान महावीर वचन
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
परखने पर मिलेगी खामियां
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
ऐ प्यारी हिन्दी......
Aditya Prakash
बारिश
मनोज कर्ण
शस्त्र उठाना होगा
वीर कुमार जैन 'अकेला'
बना लो कविता को सखी
Anamika Singh
सपना देखा है तो
कवि दीपक बवेजा
" जय हो "
DrLakshman Jha Parimal
-पहले आत्मसम्मान फिर सबका सम्मान
Seema gupta ( bloger) Gupta
दिलों की बात करता है जमाना पर मोहब्बत आज भी...
Vivek Pandey
*पटाखों की लिस्ट (कहानी)*
Ravi Prakash
🙏महागौरी🙏
पंकज कुमार कर्ण
राज
Alok Saxena
इश्क़ नहीं हम
Varun Singh Gautam
■ आज का मुक्तक
*Author प्रणय प्रभात*
मेरा अन्तर्मन
Saraswati Bajpai
Loading...