Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
1 Jul 2016 · 1 min read

गीतिका = रोना आता है

गीतिका = रोना आता है
मात्राभार= 24 प्रति पंक्ति
समान्त =आ / पदान्त = रोना आता है
*****************************
टूट रहा श्रम का कन्धा ,रोना आता है ;
कानून बना है अन्धा ,रोना आता है ।

लात घूसे जनतंत्र के मंदिर में चलते ;
घोटालों का है धन्धा ,रोना आता है ।

दुःशासन की देन,बढ़ गए भाव अवगुण के ;
इंसान हुआ है मन्दा ,रोना आता है ।

चरित धर्म और शर्म,सब खूँटी पर लटके ;
आचरण हुआ है गन्दा ,रोना आता है ।

सुभाष शेखर भगत ,हैं करते दिलों पर राज ;
अब नेता बना दरिन्दा ,रोना आता है ।

थी धाक हमारी ,थे जादूगर हॉकी के ;
अब उड़ा जोश का परिन्दा ,रोना आता है ।

पग-पग जसाला उग रहे ,अविश्वासी शूल ;
धूर्त हुआ रब का बन्दा ,रोना आता है ।

******सुरेशपाल वर्मा जसाला

1 Like · 1 Comment · 213 Views
You may also like:
अपना भारत देश महान है।
Taj Mohammad
वक्त की कीमत
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
# जज्बे सलाम ...
Chinta netam " मन "
*तिरंगा लहर-लहर लहराता (देशभक्ति गीत)*
Ravi Prakash
अमृत महोत्सव मनायेंगे
नूरफातिमा खातून नूरी
ये हरियाली
Taran Singh Verma
The Magical Darkness
Manisha Manjari
तेरे होने की ख़बर
Dr fauzia Naseem shad
संविधान की गरिमा
Buddha Prakash
“माटी ” तेरे रूप अनेक
DESH RAJ
दुर्योधन कब मिट पाया:भाग:36
AJAY AMITABH SUMAN
तू जाने लगा है
कवि दीपक बवेजा
एक तिरंगा मुझको ला दो
लक्ष्मी सिंह
देखिए भी प्यार का अंजाम मेरे शहर में।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
कोहिनूर
Dr.sima
पिता पच्चीसी दोहावली
Subhash Singhai
✍️ज्वालामुखी✍️
'अशांत' शेखर
खस्सीक दाम दस लाख
Ranjit Jha
हमारे पापा
Anamika Singh
हयात की तल्ख़ियां
Shekhar Chandra Mitra
"शिक्षक तो बोलेगा"
पंकज कुमार कर्ण
बीवी हो तो ऐसी... !!
Rakesh Bahanwal
कशमकश का दौर
Saraswati Bajpai
प्रेम
Dr.Priya Soni Khare
अनूठी दुनिया
AMRESH KUMAR VERMA
ना कर गुरुर जिंदगी पर इतना भी
VINOD KUMAR CHAUHAN
शेर
Rajiv Vishal
जिम्मेदारी और पिता
Dr. Kishan Karigar
तुझे मतलूब थी वो रातें कभी
Manoj Kumar
बर्षा रानी जल्दी आओ
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
Loading...