Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
29 Apr 2022 · 1 min read

ग़म की ऐसी रवानी….

ग़म की ऐसी रवानी लगे है कोई,
पानी पर लिखता पानी लगे है कोई,
हर वरक”अश्क”से जिसका हो धुल गया –
वो अधूरी कहानी लगे है कोई।।

© अशोक कुमार ” अश्क चिरैयाकोटी “

Language: Hindi
1 Like · 554 Views
You may also like:
-- मृत्यु जबकि अटल है --
-- मृत्यु जबकि अटल है --
गायक - लेखक अजीत कुमार तलवार
हिचकियां
हिचकियां
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
अतिथि हूं......
अतिथि हूं......
Ravi Ghayal
क्या प्यार है तुमको हमसे
क्या प्यार है तुमको हमसे
gurudeenverma198
■ लघुकथा...
■ लघुकथा...
*Author प्रणय प्रभात*
हकीकत  पर  तो  इख्तियार  है
हकीकत पर तो इख्तियार है
shabina. Naaz
खूबसूरती
खूबसूरती
RAKESH RAKESH
आज बहुत दिनों के बाद आपके साथ
आज बहुत दिनों के बाद आपके साथ
डा गजैसिह कर्दम
ग़ज़ल /
ग़ज़ल /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
दर्द जो आंखों से दिखने लगा है
दर्द जो आंखों से दिखने लगा है
Surinder blackpen
शब्दों से बनती है शायरी
शब्दों से बनती है शायरी
Pankaj Sen
कुंडलिया छंद
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
"कोई तो है"
Dr. Kishan tandon kranti
दो शे'र
दो शे'र
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
डॉ अरुण कुमार शास्त्री
DR ARUN KUMAR SHASTRI
"मेरी दुनिया"
Dr Meenu Poonia
जीवन दुखों से भरा है जीवन के सभी पक्षों में दुख के बीज सम्मि
जीवन दुखों से भरा है जीवन के सभी पक्षों में दुख के बीज सम्मि
Ms.Ankit Halke jha
सबके साथ हमें चलना है
सबके साथ हमें चलना है
DrLakshman Jha Parimal
अब भी वही तेरा इंतजार करते है
अब भी वही तेरा इंतजार करते है
ठाकुर प्रतापसिंह "राणाजी"
अरदास
अरदास
Buddha Prakash
स्वप्न कुछ
स्वप्न कुछ
surenderpal vaidya
हारो मत हिम्मत रखो , जीतोगे संग्राम (कुंडलिया)
हारो मत हिम्मत रखो , जीतोगे संग्राम (कुंडलिया)
Ravi Prakash
ज़िन्दगी और प्रेम की,
ज़िन्दगी और प्रेम की,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
हम भी नहीं रहते
हम भी नहीं रहते
Dr fauzia Naseem shad
Mera wajud bus itna hai ,
Mera wajud bus itna hai ,
Sakshi Tripathi
💐मेरे संग तेरे ख्वाबों का काफ़िला है💐
💐मेरे संग तेरे ख्वाबों का काफ़िला है💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हमारी मूर्खता ही हमे ज्ञान की ओर अग्रसर करती है।
हमारी मूर्खता ही हमे ज्ञान की ओर अग्रसर करती है।
शक्ति राव मणि
मालूम है मुझे वो मिलेगा नहीं,
मालूम है मुझे वो मिलेगा नहीं,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
हिंदी
हिंदी
Satish Srijan
“बेवफा तेरी दिल्लगी की दवा नही मिलती”
“बेवफा तेरी दिल्लगी की दवा नही मिलती”
Basant Bhagwan Roy
Loading...