Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
28 Jul 2022 · 1 min read

ग़ज़ल- राना लिधौरी

*#ग़ज़ल-ऐसे भी होते है लोग-*

खूब मेहनतकश जो थककर चूर जब होते हैं लोग।
चिलचिलाती धूप में पत्थर पे भी सोते हैं लोग।।

इंसान है इंसानियत से भी तो रहना सीख लें।
हैवान बनके नफ़रतों के बीज क्यों होते हैं लोग।।

लौट करके वक़्त गुज़रा फिर कभी आता नहीं।
जो कद्र करते ही नहीं वो बाद में रोते हैं लोग।।

बढ़ पाए न आगे कोई करते है वो ऐसे जतन।
दूसरों की टांग खींचे ऐसे भी होते हैं लोग।।

भारत में हर इक धर्म ही मोती सा है ‘राना’।
बन जायेगी माला भी इक मोती पिरोते हैं लोग।।
***

*© #राजीव_नामदेव “#राना_लिधौरी”,#टीकमगढ़*
संपादक-“#आकांक्षा” हिंदी पत्रिका
संपादक- ‘अनुश्रुति’ बुंदेली पत्रिका
जिलाध्यक्ष म.प्र. लेखक संघ टीकमगढ़
अध्यक्ष वनमाली सृजन केन्द्र टीकमगढ़
नई चर्च के पीछे, शिवनगर कालोनी,
टीकमगढ़ (मप्र)-472001
मोबाइल- 9893520965
Email – ranalidhori@gmail.com
*( *#राना_का_नज़राना* (ग़ज़ल संग्रह-2015)- राजीव नामदेव ‘राना लिधौरी’ के ग़ज़ल-79 पेज-87 से साभार

95 Views
You may also like:
🌹खिला प्रसून।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
बदनाम गलियों में।
Taj Mohammad
तुम्हे याद किये बिना सो जाऊ
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
Writing Challenge- त्याग (Sacrifice)
Sahityapedia
सूरत -ए -शिवाला
सिद्धार्थ गोरखपुरी
आओ हम पेड़ लगाए, हरियाली के गीत गाए
जगदीश लववंशी
✍️"बा" ची व्यथा✍️।
'अशांत' शेखर
“ हम महान बनबाक लालसा मे सब सँ दूर भेल...
DrLakshman Jha Parimal
"पेट को मालिक किसान"
Dr Meenu Poonia
भगवान जगन्नाथ रथ यात्रा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
मुक्तक
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
काश!
Rashmi Sanjay
विश्वासघात
Seema 'Tu hai na'
मोबाइल का आशिक़
आकाश महेशपुरी
माना तुम्हारे मुकाबिल नहीं मैं ...
डॉ.सीमा अग्रवाल
*घोर प्रदूषण-मार (दोहा-मुक्तक)*
Ravi Prakash
अमृत महोत्सव आजादी का
लक्ष्मी सिंह
इस दर्द को यदि भूला दिया, तो शब्द कहाँ से...
Manisha Manjari
शीत लहर
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
हिंदी जन-जन की भाषा
Dr. Sunita Singh
आरंभ
मनोज कर्ण
बाबा फ़क़ीर
Buddha Prakash
सियासी क़ैदी
Shekhar Chandra Mitra
🙏देवी चंद्रघंटा🙏
पंकज कुमार कर्ण
बिछड़ के मुझसे
Dr fauzia Naseem shad
मत पूछो हमसे हिज्र की हर रात हमने गुजारी कैसे...
सुषमा मलिक "अदब"
ऋषि पंचमी कब है? पूजा करने की विधि एवं मुहूर्त...
आचार्य श्रीराम पाण्डेय
*if my identity is lost
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हमारा प्यारा गणतंत्र दिवस
Ram Krishan Rastogi
💐रामायण तथा गोस्वामीजी💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Loading...