Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 May 2023 · 1 min read

गलतियाँ हो गयीं होंगी

गलतियाँ हो गयीं होंगी, मैं यह स्वीकार करता हूँ।
अगर दुश्मन पड़ा पीछे, पलटकर वार करता हूँ।
वो अपनी बादशाहत में, भले खुद को कहे प्रेमी।
तुम्हारा दिल बताएगा, मैं कितना प्यार करता हूँ।।

Language: Hindi
1 Like · 61 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
तो अब यह सोचा है मैंने
तो अब यह सोचा है मैंने
gurudeenverma198
कुछ लिखा हू तुम्हारी यादो में
कुछ लिखा हू तुम्हारी यादो में
देवराज यादव
*खो दिया सुख चैन तेरी चाह मे*
*खो दिया सुख चैन तेरी चाह मे*
सुखविंद्र सिंह मनसीरत
पिता
पिता
Meenakshi Nagar
Mere shaksiyat  ki kitab se ab ,
Mere shaksiyat ki kitab se ab ,
Sakshi Tripathi
बुरा वक्त
बुरा वक्त
लक्ष्मी सिंह
गुरु पूर्णिमा
गुरु पूर्णिमा
Vikas Sharma'Shivaaya'
मित्र, चित्र और चरित्र बड़े मुश्किल से बनते हैं। इसे सँभाल क
मित्र, चित्र और चरित्र बड़े मुश्किल से बनते हैं। इसे सँभाल क
Anand Kumar
फूलो की कहानी,मेरी जुबानी
फूलो की कहानी,मेरी जुबानी
Anamika Singh
!! दिल के कोने में !!
!! दिल के कोने में !!
Chunnu Lal Gupta
वो लम्हें जो हर पल में, तुम्हें मुझसे चुराते हैं।
वो लम्हें जो हर पल में, तुम्हें मुझसे चुराते हैं।
Manisha Manjari
पहले की भारतीय सेना
पहले की भारतीय सेना
Satish Srijan
*रामचंद्र की जय (गीत)*
*रामचंद्र की जय (गीत)*
Ravi Prakash
जिंदगी भी एक लिखा पत्र हैं
जिंदगी भी एक लिखा पत्र हैं
Neeraj Agarwal
अभिव्यक्ति की आज़ादी है कहां?
अभिव्यक्ति की आज़ादी है कहां?
Shekhar Chandra Mitra
"मैंने दिल तुझको दिया"
Ajit Kumar "Karn"
यादों की भूलभुलैया में
यादों की भूलभुलैया में
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
ఎందుకు ఈ లోకం పరుగెడుతుంది.
ఎందుకు ఈ లోకం పరుగెడుతుంది.
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
बड़ी मोहब्बतों से संवारा था हमने उन्हें जो पराए हुए है।
बड़ी मोहब्बतों से संवारा था हमने उन्हें जो पराए हुए है।
Taj Mohammad
*अज्ञानी की कलम से हमारे बड़े भाई जी प्रश्नोत्तर शायद पसंद आ
*अज्ञानी की कलम से हमारे बड़े भाई जी प्रश्नोत्तर शायद पसंद आ
जूनियर झनक कैलाश अज्ञानी झाँसी
सफ़ेदे का पत्ता
सफ़ेदे का पत्ता
नन्दलाल सुथार "राही"
वैश्विक जलवायु परिवर्तन और मानव जीवन पर इसका प्रभाव
वैश्विक जलवायु परिवर्तन और मानव जीवन पर इसका प्रभाव
Shyam Sundar Subramanian
पर्यावरण पच्चीसी
पर्यावरण पच्चीसी
मधुसूदन गौतम
ॐ शिव शंकर भोले नाथ र
ॐ शिव शंकर भोले नाथ र
Swami Ganganiya
💐प्रेम कौतुक-327💐
💐प्रेम कौतुक-327💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बेरुखी इख्तियार करते हो
बेरुखी इख्तियार करते हो
shabina. Naaz
हर हक़ीक़त को
हर हक़ीक़त को
Dr fauzia Naseem shad
🙅मैच फिक्स🙅
🙅मैच फिक्स🙅
*Author प्रणय प्रभात*
बोझ हसरतों का - मुक्तक
बोझ हसरतों का - मुक्तक
डॉक्टर वासिफ़ काज़ी
किस किस को वोट दूं।
किस किस को वोट दूं।
Dushyant Kumar
Loading...