#2 Trending Author
Jan 23, 2022 · 1 min read

गठबंधन पर एक कुंडली

गठबंधन पर एक कुंडली
*******************
गठबंधन में गांठे पड़ी,होगा नही मेल,
बाइस के चुनाव में,देखो इनका खेल।
देखो इनका खेल,आपस में जूते चलेंगे,
कुर्सी के चक्कर में,आपस में ये भिड़ेंगे।
कह रस्तोगी कविराय,ये मजबूरी का बंधन,
चुनाव के बाद टूटेगा,ये सत्ता का गठबधन।।

आर के रस्तोगी गुरुग्राम

1 Like · 1 Comment · 172 Views
You may also like:
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग३]
Anamika Singh
लहजा
सिद्धार्थ गोरखपुरी
तेरी आरज़ू, तेरी वफ़ा
VINOD KUMAR CHAUHAN
I Have No Desire To Be Found At Any Cost
Manisha Manjari
गुरु तुम क्या हो यार !
The jaswant Lakhara
!¡! बेखबर इंसान !¡!
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
एक पत्र बच्चों के लिए
Manu Vashistha
*सादा जीवन उच्च विचार के धनी कविवर रूप किशोर गुप्ता...
Ravi Prakash
सजना शीतल छांव हैं सजनी
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
आखिर तुम खुश क्यों हो
Krishan Singh
रोग ने कितना अकेला कर दिया
Dr Archana Gupta
【20】 ** भाई - भाई का प्यार खो गया **
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
अथर्व को जन्म दिन की शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सागर बोला, सुन ज़रा
सूर्यकांत द्विवेदी
पिता हिमालय है
जगदीश शर्मा सहज
"राम-नाम का तेज"
Prabhudayal Raniwal
* प्रेमी की वेदना *
Dr. Alpa H.
ये पहाड़ कायम है रहते ।
Buddha Prakash
رہنما مل گیا
अरशद रसूल /Arshad Rasool
वेदना के अमर कवि श्री बहोरन सिंह वर्मा प्रवासी*
Ravi Prakash
ये कैसा बेटी बाप का रिश्ता है?
Taj Mohammad
गाँव री सौरभ
हरीश सुवासिया
" ओ मेरी प्यारी माँ "
कुलदीप दहिया "मरजाणा दीप"
जीवन-दाता
Prabhudayal Raniwal
प्रेम का आँगन
मनोज कर्ण
पिता अम्बर हैं इस धारा का
Nitu Sah
"चैन से तो मर जाने दो"
रीतू सिंह
Blessings Of The Lord Buddha
Buddha Prakash
आंखों का वास्ता।
Taj Mohammad
हमारी मां हमारी शक्ति ( मातृ दिवस पर विशेष)
ओनिका सेतिया 'अनु '
Loading...