Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 14, 2022 · 1 min read

खुश रहना

बस खुश रहना
तुम वही करना जो तुम्हें अच्छा लगे
हंसती मुस्कुराती हुई रहना
और मेरे बारे में
कभी मत सोचना
मेरे बारे किसी से भी
कोई बात न करना
कोई कुछ पूंछे तो हंसकर टाल देना
ज्यादा पीछे पड़े तो कह देना कि पागल था
ज़माने की लगातार चोटों से
ज़ख्मी था घायल था
इक आंधी सा आ‌या था
तूफान सा चला गया
हल्के हल्के जख्मों के
निशान सा चला गया
बिखरा था टूटा था
खुद से ही रूठा था
बुद्धू था पागल था
अपनों से घायल था
आसमां में उड़ते विहान सा चला गया
हर बात में टोकता था
हर राह पे रोकता था
लड़ता था झगड़ता था
हर बात पे अकड़ता था
सूरज के उगते ही रात सा चला गया
खुद रोज रूठ जाता था
मैं रूठूं तो मनाता था
सुबह से रात तलक
जान मेरी खाता था
अच्छा हुआ आखिरी सांस सा चला गया।

2 Likes · 139 Views
You may also like:
आजादी का जश्न
DESH RAJ
✍️सूफ़ियाना जिंदगी✍️
'अशांत' शेखर
“ कुछ दिन शरणार्थियों के साथ ”
DrLakshman Jha Parimal
विश्व जनसंख्या दिवस
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
सुकुने अहसास।
Taj Mohammad
सच ही तो है हर आंसू में एक कहानी है
VINOD KUMAR CHAUHAN
मेरे बुद्ध महान !
मनोज कर्ण
ग़म की ऐसी रवानी....
अश्क चिरैयाकोटी
" भेड़ चाल कहूं या विडंबना "
Dr Meenu Poonia
कुंडलिया छंद
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
चला कर तीर नज़रों से
Ram Krishan Rastogi
चौंक पड़ती हैं सदियाॅं..
Rashmi Sanjay
✍️सिर्फ दो पल...दो बातें✍️
'अशांत' शेखर
"चैन से तो मर जाने दो"
रीतू सिंह
धार छंद "आज की दशा"
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
मेरे पापा
Anamika Singh
""वक्त ""
Ray's Gupta
बॉलीवुड का अंधा गोरी प्रेम और भारतीय समाज पर इसके...
हरिनारायण तनहा
एक जंग, गम के संग....
Aditya Prakash
कुछ दिन की है बात ,सभी जन घर में रह...
Pt. Brajesh Kumar Nayak
हे ईश्वर क्या मांगू
Anamika Singh
तिनका तिनका करके।
Taj Mohammad
बदरवा जल्दी आव ना
सिद्धार्थ गोरखपुरी
वो आवाज
Mahendra Rai
हमको आजमानें की।
Taj Mohammad
साथ तुम्हारा
Rashmi Sanjay
नींद खो दी
Dr fauzia Naseem shad
गर्दिशे दौरा को गुजर जाने दे
shabina. Naaz
ईश्वर की ठोकर
Vikas Sharma'Shivaaya'
हैप्पी फादर्स डे (लघुकथा)
drpranavds
Loading...