Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#3 Trending Author
Jun 20, 2022 · 1 min read

ख़ामोश अल्फाज़।

खामोश अल्फाज़ कितना कुछ कहते है।
अगर है असरदार तो रूह तक उतरते है।।1।।

हो दिल की कोई खुशी या हो गम कोई।
ये जिन्दगी के हर जज़्बात बयां करते हैं।।2।।

इंसा मरते है पर अल्फाज़ ज़िंदा रहते हैं।
होकर ये इकठ्ठा किताबों में सारे सोते हैं।।3।।

अल्फाज़ ही हर मसले को हल करते है।
जाने कितना कुछ खुदमें ज़ज्ब रखते है।।4।।

जैसा दिल होगा वैसे ही यह सब होते है।
अल्फाज़ ही इंसान को अकबर करते है।।5।।

कभी बनते नज़्म कभी कविता बनते है।
गहरा समन्दर अल्फाज़ अन्दर रखते है।।6।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

1 Like · 74 Views
You may also like:
*दही (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
अल्फाजों के घाव।
Taj Mohammad
तरबूज का हाल
श्री रमण 'श्रीपद्'
कौन होता है कवि
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
मुस्की दे, प्रेमानुकरण कर लेता हूँ
Pt. Brajesh Kumar Nayak
'विजय दिवस'
Godambari Negi
कृतिकार पं बृजेश कुमार नायक की कृति /खंड काव्य/शोधपरक ग्रंथ...
Pt. Brajesh Kumar Nayak
तुम्हीं हो पापा
Krishan Singh
मेरी प्रथम शायरी (2011)-
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
रामे क बरखा ह रामे क छाता
Dhirendra Panchal
बदल रहा है देश मेरा
Anamika Singh
My Expressions
Shyam Sundar Subramanian
तितली सी उड़ान है
VINOD KUMAR CHAUHAN
वफ़ा
Seema Tuhaina
हिंदी दोहे बिषय-मंत्र
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
'तुम भी ना'
Rashmi Sanjay
अपना राह तुम खुद बनाओ
Anamika Singh
*अमृत-सरोवर में नौका-विहार*
Ravi Prakash
भोर का नवगीत / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
मुझको ये जीवन जीना है
Saraswati Bajpai
सास और बहु
Vikas Sharma'Shivaaya'
मेरी लेखनी
Anamika Singh
$$पिता$$
दिनेश एल० "जैहिंद"
कहानियां
Alok Saxena
बयां सारा हम हाले दिल करेंगे।
Taj Mohammad
ज़ुबान से फिर गया नज़र के सामने
कुमार अविनाश केसर
" मेरा वतन "
Dr Meenu Poonia
नाशवंत आणि अविनाशी
Shyam Sundar Subramanian
" शिवोहम रिट्रीट "
Dr Meenu Poonia
दिल्ली की कहानी मेरी जुबानी [हास्य व्यंग्य! ]
Anamika Singh
Loading...