Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Feb 2023 · 1 min read

💐अज्ञात के प्रति-133💐

क्यों क्या हुआ जमीं पर आ गए?
इश्क़ के जहाज में औक़ात चाहिए।

©®अभिषेक: पाराशरः ‘आनन्द’

Language: Hindi
44 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
गर्मी आई
गर्मी आई
Manu Vashistha
*पत्रिका समीक्षा*
*पत्रिका समीक्षा*
Ravi Prakash
गंदा धंधा
गंदा धंधा
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
*सूनी माँग* पार्ट-1 - कहानी लेखक: राधाकिसन मूंधड़ा, सूरत, गुजरात।
*सूनी माँग* पार्ट-1 - कहानी लेखक: राधाकिसन मूंधड़ा, सूरत, गुजरात।
Radhakishan Mundhra
दिल में भी
दिल में भी
Dr fauzia Naseem shad
'फौजी होना आसान नहीं होता
'फौजी होना आसान नहीं होता"
Lohit Tamta
🥰 होली पर कुछ लेख 🥰
🥰 होली पर कुछ लेख 🥰
Swati
कोई उम्मीद किसी से,तुम नहीं करो
कोई उम्मीद किसी से,तुम नहीं करो
gurudeenverma198
तेज दौड़े है रुके ना,
तेज दौड़े है रुके ना,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
अगर तोहफ़ा देने से मुहब्बत
अगर तोहफ़ा देने से मुहब्बत
shabina. Naaz
फूलों जैसा कोमल बनकर
फूलों जैसा कोमल बनकर
Chunnu Lal Gupta
युवराज की बारात
युवराज की बारात
*Author प्रणय प्रभात*
है प्यार तो जता दो
है प्यार तो जता दो
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
शिक्षा मनुष्य के विकास की परवाह करता है,
शिक्षा मनुष्य के विकास की परवाह करता है,
Buddha Prakash
नरभक्षी_गिद्ध
नरभक्षी_गिद्ध
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
मेरी कलम से…
मेरी कलम से…
Anand Kumar
समझदारी का न करे  ,
समझदारी का न करे ,
Pakhi Jain
इश्क के चादर में इतना न लपेटिये कि तन्हाई में डूब जाएँ,
इश्क के चादर में इतना न लपेटिये कि तन्हाई में डूब जाएँ,
नव लेखिका
अतिथि हूं......
अतिथि हूं......
Ravi Ghayal
विदाई गीत
विदाई गीत
Dr Archana Gupta
"हाथों की लकीरें"
Ekta chitrangini
पहाड़ों की हंसी ठिठोली
पहाड़ों की हंसी ठिठोली
Shankar J aanjna
आंखे, बाते, जुल्फे, मुस्कुराहटे एक साथ में ही वार कर रही हो।
आंखे, बाते, जुल्फे, मुस्कुराहटे एक साथ में ही वार कर रही हो।
Vishal babu (vishu)
भारत माँ के वीर सपूत
भारत माँ के वीर सपूत
Kanchan Khanna
दूसरे दर्जे का आदमी
दूसरे दर्जे का आदमी
Jeewan Singh 'जीवनसवारो'
मन के मंदिर में
मन के मंदिर में
Divya Mishra
इंसान जीवन क़ो अच्छी तरह जीने के लिए पूरी उम्र मेहनत में गुजा
इंसान जीवन क़ो अच्छी तरह जीने के लिए पूरी उम्र मेहनत में गुजा
अभिनव अदम्य
सड़क पर उतरना होगा
सड़क पर उतरना होगा
Shekhar Chandra Mitra
तुम्हारा प्यार साथ था गोया
तुम्हारा प्यार साथ था गोया
Ranjana Verma
है माँ
है माँ
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
Loading...