Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
15 Mar 2023 · 1 min read

क्या है खूबी हमारी बता दो जरा,

क्या है खूबी हमारी बता दो जरा,
वह तो कमियां हमारी बताते मिले।
साथ देकर उठाने की खाई कसम,
वह तो चुपके से हमको गिराते मिले।
कहे महफ़िल सजाते तुम्हारे लिए,
काम अपना महोदय बनाते मिले ।
कभी परिचय बढ़ा थोड़े सम्मान से,
वह तो एहसान खुद का गिनाते मिले।
गिर उठे थे कभी हौंसले की वजह,
हम हैं असली वजह यह जताते मिले।।

-सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर ‘

87 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.

Books from सत्येन्द्र पटेल ‘प्रखर’

You may also like:
प्यार के सिलसिले
प्यार के सिलसिले
Basant Bhagwan Roy
बुलेटप्रूफ गाड़ी
बुलेटप्रूफ गाड़ी
Shivkumar Bilagrami
पीड़ित करती न तलवार की धार उतनी जितनी शब्द की कटुता कर जाती
पीड़ित करती न तलवार की धार उतनी जितनी शब्द की कटुता कर जाती
Nav Lekhika
पुण्यात्मा के हाथ भी, हो जाते हैं पाप ।
पुण्यात्मा के हाथ भी, हो जाते हैं पाप ।
डॉ.सीमा अग्रवाल
फितरत
फितरत
umesh mehra
💐प्रेम कौतुक-334💐
💐प्रेम कौतुक-334💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
■ ज़रूरत...
■ ज़रूरत...
*Author प्रणय प्रभात*
कविका मान
कविका मान
Dr. Sunita Singh
प्रिये
प्रिये
Kamal Deependra Singh
सामाजिक न्याय के प्रश्न
सामाजिक न्याय के प्रश्न
Shekhar Chandra Mitra
धरा कठोर भले हो कितनी,
धरा कठोर भले हो कितनी,
Satish Srijan
*जीवन का आधार है बेटी,
*जीवन का आधार है बेटी,
Shashi kala vyas
अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस
अंतरराष्ट्रीय श्रमिक दिवस
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
रिश्तें मे मानव जीवन
रिश्तें मे मानव जीवन
Anil chobisa
तुम तो हो गई मुझसे दूर
तुम तो हो गई मुझसे दूर
Shakil Alam
अधमरा जीने से
अधमरा जीने से
Dr fauzia Naseem shad
मुस्कुराकर देखिए /
मुस्कुराकर देखिए /
ईश्वर दयाल गोस्वामी
कुछ पैसे बचा कर रखे हैं मैंने,
कुछ पैसे बचा कर रखे हैं मैंने,
Vishal babu (vishu)
मासूम पल
मासूम पल
Dr. Rajiv
मीलों का सफर तय किया है हमने
मीलों का सफर तय किया है हमने
कवि दीपक बवेजा
"अतीत"
Dr. Kishan tandon kranti
कहानी *
कहानी *"ममता"* पार्ट-2 लेखक: राधाकिसन मूंधड़ा, सूरत।
Radhakishan Mundhra
यूं जो उसको तकते हो।
यूं जो उसको तकते हो।
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
तुम बहुत प्यारे हो
तुम बहुत प्यारे हो
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
~प्रकृति~(द्रुत विलम्बित छंद)
~प्रकृति~(द्रुत विलम्बित छंद)
Vijay kumar Pandey
आज की जेनरेशन
आज की जेनरेशन
ruby kumari
डॉक्टर कर्ण सिंह से एक मुलाकात
डॉक्टर कर्ण सिंह से एक मुलाकात
Ravi Prakash
2314.पूर्णिका
2314.पूर्णिका
Dr.Khedu Bharti
खेल करे पैसा मिले,
खेल करे पैसा मिले,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
शंगोल
शंगोल
Bodhisatva kastooriya
Loading...