Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#1 Trending Author
May 20, 2022 · 1 min read

क्या क्या हम भूल चुके है

अपनी सभ्यता को हम भूल चुके हैं,
पाश्चात्य सभ्यता को अपना चुके है।
विदेशी खान पान पर आ गए हम,
अपना खान पान हम भूल चुके है।।

दलिया खिचड़ी हम भूल गए है,
बर्गर पिज्जा पर हम आ गए है।
अपना रहन सहन हम भूल चुके हैं,
फ्लैट सोसायटी पर हम आ गए है।।

दालान आंगन अब कहां रह गए है,
बेड रूम ड्राइंग रूम में समा गए है।
फूल फुलवाड़ी बगीचे भूल गए है,
मिट्टी के गमलों में हम समा गए है।।

हिन्दी माध्यम को हम भूल गए है,
अंग्रेजी माध्यम पर हम आ गए है।
पहाड़े,गुना भाग जमा घटाना है कहां
टेबिल,प्लस माइनस पर आ गए है।।

चरण छूना भी हम अब भूल गए है,
नतमस्तक होना भी अब भूल गए है।
गुड मॉर्निंग गुड नाईट सीख लिया है,
प्रणाम नमस्ते कहना हम भूल गए है।।

प्याऊं छबील हम सब भूल गए हैं,
मिनरल वाटर पर हम आ गए है।
अपनो से अभिवादन करना भूल गए,
टाटा बाय बाय पर हम आ गए है।।

पानी कभी न मोल बिकता देखा,
अब हर जगह हमने बिकता देखा।
अब ये प्लास्टिक बोतलों में भर कर
सरे आम बाजार में बिकता देखा।।

आर के रस्तोगी गुरुग्राम

3 Likes · 4 Comments · 89 Views
You may also like:
हवा-बतास
आकाश महेशपुरी
बंदर मामा गए ससुराल
Manu Vashistha
" ओ मेरी प्यारी माँ "
कुलदीप दहिया "मरजाणा दीप"
"स्नेह सभी को देना है "
DrLakshman Jha Parimal
गुणगान क्यों
spshukla09179
💐💐प्रेम की राह पर-15💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
अम्बेडकर जी के सपनों का भारत
Shankar J aanjna
चलो जहाँ की रूसवाईयों से दूर चलें
VINOD KUMAR CHAUHAN
आदर्श ग्राम्य
Tnmy R Shandily
जिस नारी ने जन्म दिया
VINOD KUMAR CHAUHAN
"फिर से चिपको"
पंकज कुमार "कर्ण"
जानें कैसा धोखा है।
Taj Mohammad
🌺प्रेम की राह पर-58🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
बुद्ध या बुद्धू
Priya Maithil
मजदूर बिना विकास असंभव ..( मजदूर दिवस पर विशेष)
ओनिका सेतिया 'अनु '
हिन्दू साम्राज्य दिवस
jaswant Lakhara
ज़रा सामने बैठो।
Taj Mohammad
*सदा तुम्हारा मुख नंदी शिव की ही ओर रहा है...
Ravi Prakash
आदरणीय अन्ना हजारे जी दिल्ली में जमूरा छोड़ गए
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
💐 निर्गुणी नर निगोड़ा 💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
“ राजा और प्रजा ”
DESH RAJ
घातक शत्रु
AMRESH KUMAR VERMA
उसको बता दो।
Taj Mohammad
जिन्दगी तेरा फलसफा।
Taj Mohammad
इश्क़―की―आग
N.ksahu0007@writer
ब्रेक अप
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
💐उत्कर्ष💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
माँ पर तीन मुक्तक
Dr Archana Gupta
🍀🌺प्रेम की राह पर-43🌺🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
छद्म राष्ट्रवाद की पहचान
Mahender Singh Hans
Loading...