Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
13 Mar 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-420💐

कोई मक़सद कहाँ रहा है अब कोई,
जब किसी ने कहा एतिबार नहीं है,
कैसा भी इंतिज़ार नहीं है अब कोई,
जब दिल के सुकूँ को ही एतिबार नहीं हैं।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
107 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
आज  मेरा कल तेरा है
आज मेरा कल तेरा है
Harminder Kaur
आसमानों को छूने की जद में निकले
आसमानों को छूने की जद में निकले
कवि दीपक बवेजा
What I wished for is CRISPY king
What I wished for is CRISPY king
Ankita Patel
*सकल विश्व में अपनी भाषा, हिंदी की जयकार हो (गीत)*
*सकल विश्व में अपनी भाषा, हिंदी की जयकार हो (गीत)*
Ravi Prakash
पेड़ काट निर्मित किए, घुटन भरे बहु भौन।
पेड़ काट निर्मित किए, घुटन भरे बहु भौन।
विमला महरिया मौज
वसंत का संदेश
वसंत का संदेश
Anamika Singh
तेरा यह आईना
तेरा यह आईना
gurudeenverma198
Your heart is a Queen who runs by gesture of your mindset !
Your heart is a Queen who runs by gesture of your mindset !
Nupur Pathak
Even if you stand
Even if you stand
Dhriti Mishra
कर्ज
कर्ज
Vikas Sharma'Shivaaya'
#मुक्तक
#मुक्तक
*Author प्रणय प्रभात*
आज की प्रस्तुति - भाग #1
आज की प्रस्तुति - भाग #1
Rajeev Dutta
उसका प्यार
उसका प्यार
Dr MusafiR BaithA
जब हमें तुमसे मोहब्बत ही नहीं है,
जब हमें तुमसे मोहब्बत ही नहीं है,
Dr. Man Mohan Krishna
सोती रातों में ख़्वाब देखा अब इन आँखों को जागना है,
सोती रातों में ख़्वाब देखा अब इन आँखों को जागना है,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
ज्योतिष विज्ञान एव पुनर्जन्म धर्म के परिपेक्ष्य में ज्योतिषीय लेख
ज्योतिष विज्ञान एव पुनर्जन्म धर्म के परिपेक्ष्य में ज्योतिषीय लेख
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
दोहे
दोहे
सूर्यकांत द्विवेदी
महापंडित ठाकुर टीकाराम (18वीं सदीमे वैद्यनाथ मंदिर के प्रधान पुरोहित)
महापंडित ठाकुर टीकाराम (18वीं सदीमे वैद्यनाथ मंदिर के प्रधान पुरोहित)
श्रीहर्ष आचार्य
नमन सभी शिक्षकों को, शिक्षक दिवस की बधाई 🎉
नमन सभी शिक्षकों को, शिक्षक दिवस की बधाई 🎉
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
बदनाम दिल बेचारा है
बदनाम दिल बेचारा है
Taj Mohammad
इस दुनिया में दोस्त हीं एक ऐसा विकल्प है जिसका कोई विकल्प नह
इस दुनिया में दोस्त हीं एक ऐसा विकल्प है जिसका कोई विकल्प नह
Shweta Soni
बदी करने वाले भी
बदी करने वाले भी
Satish Srijan
दीप बनकर जलो तुम
दीप बनकर जलो तुम
surenderpal vaidya
चिराग जलाए नहीं
चिराग जलाए नहीं
शेख़ जाफ़र खान
शाम सुहानी सावन की
शाम सुहानी सावन की
लक्ष्मी सिंह
"पशु-पक्षियों की बोली"
Dr. Kishan tandon kranti
देश के नौजवान
देश के नौजवान
Shekhar Chandra Mitra
पेट भरता नहीं है बातों से
पेट भरता नहीं है बातों से
Dr fauzia Naseem shad
✍️रात साजिशों में है✍️
✍️रात साजिशों में है✍️
'अशांत' शेखर
सावन के काले बादल औ'र बदलियां ग़ज़ल में।
सावन के काले बादल औ'र बदलियां ग़ज़ल में।
सत्य कुमार प्रेमी
Loading...