Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
16 Apr 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-560💐

कोई पयाम नहीं आ रहा है ख़ुद से दूर समझूँ,
या फिर अपने दिल को उनका ही दिल समझूँ,
कुछ तो बोलो आवाज़ दीजिए मुझे गुलाब सी,
क्या मिरी तिरी कहानी को यूँ ही ख़त्म समझूँ।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
200 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
नरसिंह अवतार
नरसिंह अवतार
Shashi kala vyas
हंसकर गमों को एक घुट में मैं इस कदर पी गया
हंसकर गमों को एक घुट में मैं इस कदर पी गया
Krishan Singh
"खुद के खिलाफ़"
Dr. Kishan tandon kranti
आशा
आशा
Sanjay ' शून्य'
✍️मेहरबानी✍️
✍️मेहरबानी✍️
'अशांत' शेखर
"बेज़ारी" ग़ज़ल
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
अफ़सोस का बीज
अफ़सोस का बीज
नील पदम् Deepak Kumar Srivastava (दीपक )(Neel Padam)
आईना...
आईना...
डॉ.सीमा अग्रवाल
दुनिया की रीति
दुनिया की रीति
AMRESH KUMAR VERMA
मैत्री//
मैत्री//
Madhavi Srivastava
ऋतुराज बसंत
ऋतुराज बसंत
Abhishek Shrivastava "Shivaji"
मेरा बचपन
मेरा बचपन
Alok Kumar Vaid
समस्या का समाधान
समस्या का समाधान
Paras Nath Jha
जय जय इंडियन आर्मी
जय जय इंडियन आर्मी
gurudeenverma198
*नव वर्ष (मुक्तक)*
*नव वर्ष (मुक्तक)*
Ravi Prakash
दिल है या दिल्ली?
दिल है या दिल्ली?
Shekhar Chandra Mitra
चुका न पाएगा कभी,
चुका न पाएगा कभी,
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
अगर तुम खुश हो।
अगर तुम खुश हो।
Taj Mohammad
Kbhi asman me sajti bundo ko , barish kar jate ho
Kbhi asman me sajti bundo ko , barish kar jate ho
Sakshi Tripathi
वर्षा ऋतु
वर्षा ऋतु
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
मत जला जिंदगी मजबूर हो जाऊंगा मैं ,
मत जला जिंदगी मजबूर हो जाऊंगा मैं ,
कवि दीपक बवेजा
नशा नहीं सुहाना कहर हूं मैं
नशा नहीं सुहाना कहर हूं मैं
Dr Meenu Poonia
बरसात।
बरसात।
Anil Mishra Prahari
तल्ख
तल्ख
shabina. Naaz
■ आज का मुक्तक
■ आज का मुक्तक
*Author प्रणय प्रभात*
💐प्रेम कौतुक-198💐
💐प्रेम कौतुक-198💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
سیکھ لو
سیکھ لو
Ahtesham Ahmad
रिश्ते वही अनमोल
रिश्ते वही अनमोल
Dr fauzia Naseem shad
हिन्दी की दशा
हिन्दी की दशा
श्याम लाल धानिया
सियासत हो
सियासत हो
Vishal babu (vishu)
Loading...