Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
19 Feb 2023 · 1 min read

💐प्रेम कौतुक-175💐

किसी व्यक्ति की पीड़ा तब और बढ़ जाती है,जब जिसे जैसा समझा था वह व्यक्ति/वस्तु वैसा न निकले।

©®अभिषेक: पाराशरः “आनन्द”

Language: Hindi
41 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
इंसान हूं मैं आखिर ...
इंसान हूं मैं आखिर ...
ओनिका सेतिया 'अनु '
White patches
White patches
Buddha Prakash
पर्यावरण
पर्यावरण
नवीन जोशी 'नवल'
इंद्रधनुष
इंद्रधनुष
Dr Praveen Thakur
*रहेगा सर्वदा जीवन, सभी को एक यह भ्रम है (मुक्तक)*
*रहेगा सर्वदा जीवन, सभी को एक यह भ्रम है (मुक्तक)*
Ravi Prakash
Intakam hum bhi le sakte hai tujhse,
Intakam hum bhi le sakte hai tujhse,
Sakshi Tripathi
प्रेम की राह।
प्रेम की राह।
लक्ष्मी सिंह
शहीद दिवस पर शहीदों को सत सत नमन 🙏🙏🙏
शहीद दिवस पर शहीदों को सत सत नमन 🙏🙏🙏
Prabhu Nath Chaturvedi
मैं चला बन एक राही
मैं चला बन एक राही
AMRESH KUMAR VERMA
स्मृतियों का सफर (23)
स्मृतियों का सफर (23)
Seema gupta,Alwar
उजियार
उजियार
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
दिल में भी
दिल में भी
Dr fauzia Naseem shad
जीवन का हर वो पहलु सरल है
जीवन का हर वो पहलु सरल है
'अशांत' शेखर
एक सूखा सा वृक्ष...
एक सूखा सा वृक्ष...
Awadhesh Kumar Singh
किछ पन्नाके छै ई जिनगीहमरा हाथमे कलम नइँमेटाैना थमाएल गेल अछ
किछ पन्नाके छै ई जिनगीहमरा हाथमे कलम नइँमेटाैना थमाएल गेल अछ
गजेन्द्र गजुर ( Gajendra Gajur )
उसकी गली तक
उसकी गली तक
Vishal babu (vishu)
"मोमबत्ती"
Dr. Kishan tandon kranti
■ खोज-बीन...
■ खोज-बीन...
*Author प्रणय प्रभात*
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
11कथा राम भगवान की, सुनो लगाकर ध्यान
Dr Archana Gupta
अंबेडकर जयंती
अंबेडकर जयंती
Shekhar Chandra Mitra
मेरी (उनतालीस) कविताएं
मेरी (उनतालीस) कविताएं
श्याम सिंह बिष्ट
💐प्रेम कौतुक-169💐
💐प्रेम कौतुक-169💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
हमारे तुम्हारे दरम्यान फासले बस
हमारे तुम्हारे दरम्यान फासले बस
Khushboo Khatoon
पिता एक सूरज
पिता एक सूरज
डॉ. शिव लहरी
#drarunkumarshastriblogger
#drarunkumarshastriblogger
DR ARUN KUMAR SHASTRI
हर तरफ़ तन्हाइयों से लड़ रहे हैं लोग
हर तरफ़ तन्हाइयों से लड़ रहे हैं लोग
Shivkumar Bilagrami
चंदू और बकरी चाँदनी
चंदू और बकरी चाँदनी
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
प्यार हो जाय तो तकदीर बना देता है।
प्यार हो जाय तो तकदीर बना देता है।
Satish Srijan
!! निरीह !!
!! निरीह !!
Chunnu Lal Gupta
*जीवन में जब कठिन समय से गुजर रहे हो,जब मन बैचेन अशांत हो गय
*जीवन में जब कठिन समय से गुजर रहे हो,जब मन बैचेन अशांत हो गय
Shashi kala vyas
Loading...