Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 29, 2021 · 1 min read

किसान

किसान
*****
सुबह-शाम,दिन-रात परिश्रम
के पर्याय हैं वीर किसान
कर्म-साधना के साधक हैं
ये अपने भारत की शान।

घनघोर हो बारिश,सर्दी,ठिठुरन
जेठ की तपती दुपहरिया
बढ़ें फसल खेतों में निशि दिन
अपने किसान हम सबकी शान।

जीवन के झंझावातों में
दुःख के भारी बरसातों में
चलते रहते हल खेतों में
बसते हैं प्रभु इनके मन में।

दुःख भी सहते,हँसते,हर्षाते
हम सबको है इन पर आन
रीढ़ राष्ट्र की इनसे ही है
देश-देश की शान किसान।

हों परिमार्जित,परिवर्द्धित नित-नित
पुष्पित हों ये देश की शान
सब जन भावुक हों इनके प्रति
जय-जय भारत के वीर किसान!
–अनिल कुमार मिश्र
राँची,झारखंड

155 Views
You may also like:
वक्त की उलझनें
ज्ञानीचोर ज्ञानीचोर
"बेटी के लिए उसके पिता "
rubichetanshukla रुबी चेतन शुक्ला
Only for L
श्याम सिंह बिष्ट
*आजादी का अमृत महोत्सव (कुंडलिया)*
Ravi Prakash
सास-बहू के झगड़े और मनोविज्ञान
सोलंकी प्रशांत (An Explorer Of Life)
शेर
Rajiv Vishal
"तुम हक़ीक़त हो ख़्वाब हो या लिखी हुई कोई ख़ुबसूरत...
Lohit Tamta
A cup of tea ☕
Buddha Prakash
बोलती आँखे...
मनोज कर्ण
यह जिन्दगी क्या चाहती है
Anamika Singh
ज़िंदगी का ये
Dr fauzia Naseem shad
हमें तुम भुल गए
Anamika Singh
✍️पढ़ना ही पड़ेगा ✍️
Vaishnavi Gupta
जिंदगी देखा तुझे है आते अरु जाते हुए।
सत्य कुमार प्रेमी
योग क्या है और इसकी महत्ता
Ram Krishan Rastogi
अपनी ख़्वाहिशों को
Dr fauzia Naseem shad
निर्गुण सगुण भेद..?
मनोज कर्ण
✍️✍️नींद✍️✍️
'अशांत' शेखर
मुकरियां __नींद
Manu Vashistha
युवता
Vijaykumar Gundal
विश्वास और शक
Dr Meenu Poonia
मां की दुआ है।
Taj Mohammad
कोई मरहम
Dr fauzia Naseem shad
प्रकृति और कोरोना की कहानी मेरी जुबानी
Anamika Singh
होली कान्हा संग
Kanchan Khanna
जीवन जीने की कला, पहले मानव सीख
Dr Archana Gupta
* तेरी चाहत बन जाऊंगा *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
तेरी याद में
DR ARUN KUMAR SHASTRI
नित नए संघर्ष करो (मजदूर दिवस)
श्री रमण 'श्रीपद्'
गृहणी का बुद्धत्व
पूनम कुमारी (आगाज ए दिल)
Loading...