Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
31 May 2022 · 1 min read

किसकी पीर सुने ? (नवगीत)

किससे
अपना दर्द
कहें हम,
किसकी पीर सुनें ?

जैसा मैं हूँ
वैसा तू है
ऐंसे ही हैं
हम सब ।
जितना मैं हूँ
उतना तू है
इतने ही हैं
हम सब ।

एक है
डफली
एक राग है
एक-सी रामधुनें ।

मेरे घर में
चाय नहीं है
तेरे घर में
शक्कर ।
उसके घर में
तेल नहीं है
दर्द यही है
घर-घर ।

किल्लत
क्या है
क्या है दिक्कत
कैसे इसे चुनें ?

पंचर है
मेरा स्कूटर
तेरी कार
रिसानी ।
उसकी वाइक
का रिंग टेढ़ा
सबको है
हैरानी ।

जिल्लत की
खटिया
पर लेटी,
इज़्ज़त स्वप्न बुने ।

किससे
अपना दर्द
कहें हम
किसकी पीर सुनें ?

— ईश्वर दयाल गोस्वामी
छिरारी (रहली),सागर
मध्यप्रदेश ।

Language: Hindi
Tag: गीत
10 Likes · 14 Comments · 297 Views
You may also like:
सवर्ण और दलित
Shekhar Chandra Mitra
दोगले मित्र
अमरेश मिश्र 'सरल'
मिसाल (कविता)
Kanchan Khanna
*दिल्ली में (हिंदी गजल/गीतिका)*
Ravi Prakash
चाहे जितनी देर लगे।
Buddha Prakash
हिंदी हमारी शान है
डॉ.एल. सी. जैदिया 'जैदि'
Why Not Heaven Have Visiting Hours?
Manisha Manjari
✍️आज जमी तो कल आसमाँ हूँ
'अशांत' शेखर
प्रकृति का क्रोध
Anamika Singh
नवरात्रि पर्व की हार्दिक शुभकामनाएं 🙏
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
तेरी सुंदरता पर कोई कविता लिखते हैं।
Taj Mohammad
हम भटकते है उन रास्तों पर जिनकी मंज़िल हमारी नही,
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
दिखाकर ताकत रुपयों की
gurudeenverma198
💐💐एक मुलाकात की बात ही तो है💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
निज सुरक्षित भावी
AMRESH KUMAR VERMA
कौन उठाए आवाज, आखिर इस युद्ध तंत्र के खिलाफ?
AJAY AMITABH SUMAN
जीने की वजह
Seema 'Tu hai na'
अब कितना कुछ और सहा जाए-
डी. के. निवातिया
प्रिय आदर्श शिक्षक
इंजी. लोकेश शर्मा (लेखक)
जीवनमंथन
Shyam Sundar Subramanian
आया शरद पूर्णिमा की महारास
लक्ष्मी सिंह
क्षणिकायें-पर्यावरण चिंतन
राजेश 'ललित'
मेरी तकलीफ़
Dr fauzia Naseem shad
डिजिटल प्यार था हमरा
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
Ye Sochte Huye Chalna Pad Raha Hai Dagar Main
Muhammad Asif Ali
मूक प्रेम
Rashmi Sanjay
“ राजा और प्रजा ”
DESH RAJ
बेटी से ही संसार
Prakash juyal 'मुकेश'
पायल बोले छनन छनन - देवी गीत
Ashish Kumar
बस तू चाहिए।
Harshvardhan "आवारा"
Loading...