Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jul 13, 2022 · 1 min read

कितनी सहमी सी

चन्द ख़्वाहिश की आपाधापी में ।
कितनी सहमी सी ज़िन्दगानी है ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

5 Likes · 1 Comment · 37 Views
You may also like:
काँटों में खिलो फूल-सम, औ दिव्य ओज लो।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
कौन हो तुम….
Rekha Drolia
खामों खां
Taj Mohammad
देश की पहचान हमसे
Dr fauzia Naseem shad
लोकसभा की दर्शक-दीर्घा में एक दिन: 8 जुलाई 1977
Ravi Prakash
थोड़ी मेहनत और कर लो
Nitu Sah
1-साहित्यकार पं बृजेश कुमार नायक का परिचय
Pt. Brajesh Kumar Nayak
कन्यादान लिखना भी कहानी हो गई
VINOD KUMAR CHAUHAN
तू अहम होता।
Taj Mohammad
बहन का जन्मदिन
Khushboo Khatoon
सीख
Anamika Singh
पाकीज़ा इश्क़
VINOD KUMAR CHAUHAN
मत रो ऐ दिल
Anamika Singh
पिता
pradeep nagarwal
✍️क्या क्या पढ़ा है आपने ?✍️
'अशांत' शेखर
" परिवर्तनक बसात "
DrLakshman Jha Parimal
दर्द तक़सीम कर नहीं सकते
Dr fauzia Naseem shad
नमन (देशभक्ति गीत)
Ravi Prakash
वह माँ नही हो सकती
Anamika Singh
चाँद
विजय कुमार अग्रवाल
तिरंगा
Dr Archana Gupta
प्रयोजन
Shiva Awasthi
वृक्ष बोल उठे..!
Prabhudayal Raniwal
जोकर vs कठपुतली ~03
bhandari lokesh
हम तमाशा तो
Dr fauzia Naseem shad
✍️बगावत थी उसकी✍️
'अशांत' शेखर
लौटे स्वर्णिम दौर
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पागल हूं जो दिन रात तुझे सोचता हूं।
Harshvardhan "आवारा"
ज़िंदगी का हीरो
AMRESH KUMAR VERMA
चुनौती
AMRESH KUMAR VERMA
Loading...