Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 9, 2022 · 1 min read

काश हमारे पास भी होती ये दौलत।

पेश है पूरी ग़ज़ल…

काश हमारे पास भी होती ये दौलत,
तो हम भी जहां में अमीर कहलाते।।

लेते सब हमको अदब ओ लिहाज़ में,
यूं हम भी शहर के नज़ीर बन जाते।।

बदकिस्मत थे हमारे गुनाह खुल गए,
वर्ना हम तुम जैसे शरीफ कहलाते।।

इश्क करके तुम्हारा कुछ ना गया है,
गर जाता तो तुम भी गरीब बन जाते।।

मैनें मोहब्बत में तुम्हें खुदा माना था,
पर तुम मेरे कभी हबीब ना बन पाए।।

गर कर लेते हमारा अकीदा थोडा सा,
तो हम भी आज तेरे करीब आ जाते।।

मिल जाती हमको भी इश्के मंजिल,
गर सफ़र में तुम भी शरीक हो जाते।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

1 Like · 74 Views
You may also like:
संघर्ष
Anamika Singh
माँ (खड़ी हूँ मैं बुलंदी पर मगर आधार तुम हो...
Dr Archana Gupta
ख्वाब को बाँध दो
Anamika Singh
असीम जिंदगी...
मनोज कर्ण
यूं भी तेरी उलफत का .....
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
✍️न जाने वो कौन से गुनाहों की सज़ा दे रहा...
Vaishnavi Gupta
पिता की अभिलाषा
मनोज कर्ण
" जंगल की दुनिया "
Dr Meenu Poonia
*फल- राजा कहलाता आम (गीतिका)*
Ravi Prakash
काव्य संग्रह
AJAY PRASAD
तेरे खेल न्यारे
DR ARUN KUMAR SHASTRI
चाँदनी रातें (विधाता छंद)
HindiPoems ByVivek
✍️महानता✍️
'अशांत' शेखर
हमसे न अब करो
Dr fauzia Naseem shad
✍️बस इतनी सी ख्वाईश✍️
'अशांत' शेखर
फादर्स डे पर विशेष पिरामिड कविता
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
जाति- पाति, भेद- भाव
AMRESH KUMAR VERMA
तब से भागा कोलेस्ट्रल
श्री रमण 'श्रीपद्'
दीये की बाती
सूर्यकांत द्विवेदी
वज्र तनु दुर्योधन
AJAY AMITABH SUMAN
बेटी का पत्र माँ के नाम (भाग २)
Anamika Singh
किसी को गिराया नहीं मैनें।
Taj Mohammad
** थोड़े मे **
Swami Ganganiya
तेरी आरज़ू, तेरी वफ़ा
VINOD KUMAR CHAUHAN
ये जिंदगी ना हंस रही है।
Taj Mohammad
डूबती कश्ती को साहिल दे।
Taj Mohammad
✍️मन की बात✍️
'अशांत' शेखर
क्यों मेरा
Dr fauzia Naseem shad
✍️✍️व्यवस्था✍️✍️
'अशांत' शेखर
जीना मुश्किल
Harshvardhan "आवारा"
Loading...