Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
14 Feb 2023 · 1 min read

💐अज्ञात के प्रति-112💐

कायदे से मैं उन्हें देख रहा हूँ, है कोई वज़ह।
इसकी जो वज़ह है,है उनकी भी वही वज़ह।।

©®अभिषेक: पाराशरः ‘आनन्द’

Language: Hindi
111 Views
📢 Stay Updated with Sahityapedia!
Join our official announcements group on WhatsApp to receive all the major updates from Sahityapedia directly on your phone.
You may also like:
अबीर ओ गुलाल में अब प्रेम की वो मस्ती नहीं मिलती,
अबीर ओ गुलाल में अब प्रेम की वो मस्ती नहीं मिलती,
Er. Sanjay Shrivastava
कालजयी रचनाकार
कालजयी रचनाकार
Shekhar Chandra Mitra
अपराधियों ने जमा ली सियासत में पैठ
अपराधियों ने जमा ली सियासत में पैठ
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग ५]
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग ५]
Anamika Singh
तुम्हारे प्रश्नों के कई
तुम्हारे प्रश्नों के कई
लक्ष्मी वर्मा प्रतीक्षा
मन सीख न पाया
मन सीख न पाया
Saraswati Bajpai
*श्री शचींद्र भटनागर : एक अध्यात्मवादी गीतकार*
*श्री शचींद्र भटनागर : एक अध्यात्मवादी गीतकार*
Ravi Prakash
मुक्तक
मुक्तक
Rashmi Sanjay
✍️बात बात में..✍️
✍️बात बात में..✍️
'अशांत' शेखर
21-हिंदी दोहा दिवस , विषय-  उँगली   / अँगुली
21-हिंदी दोहा दिवस , विषय- उँगली / अँगुली
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
आलेख - मित्रता की नींव
आलेख - मित्रता की नींव
रोहताश वर्मा 'मुसाफिर'
काश लौट कर आए वो पुराने जमाने का समय ,
काश लौट कर आए वो पुराने जमाने का समय ,
Shashi kala vyas
राह भटके हुए राही को, सही राह, राहगीर ही बता सकता है, राही न
राह भटके हुए राही को, सही राह, राहगीर ही बता सकता है, राही न
जय लगन कुमार हैप्पी
*నమో గణేశ!*
*నమో గణేశ!*
डॉ गुंडाल विजय कुमार 'विजय'
बदली - बदली हवा और ये जहाँ बदला
बदली - बदली हवा और ये जहाँ बदला
सिद्धार्थ गोरखपुरी
■ चिंतन का निष्कर्ष
■ चिंतन का निष्कर्ष
*Author प्रणय प्रभात*
पुश्तैनी मकान.....
पुश्तैनी मकान.....
Awadhesh Kumar Singh
"एक नई सुबह आयेगी"
पंकज कुमार कर्ण
Ranjeet Shukla
Ranjeet Shukla
Ranjeet Kumar Shukla
'आप नहीं आएंगे अब पापा'
'आप नहीं आएंगे अब पापा'
alkaagarwal.ag
मुस्कुराओ तो सही
मुस्कुराओ तो सही
अभिषेक पाण्डेय 'अभि ’
रक्षा के पावन बंधन का, अमर प्रेम त्यौहार
रक्षा के पावन बंधन का, अमर प्रेम त्यौहार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*** सफ़र जिंदगी के....!!! ***
*** सफ़र जिंदगी के....!!! ***
VEDANTA PATEL
चाय और गपशप
चाय और गपशप
Seema gupta,Alwar
मृत्यु
मृत्यु
AMRESH KUMAR VERMA
खूबसूरत जिंदगी में
खूबसूरत जिंदगी में
Harminder Kaur
क्रोध को नियंत्रित कर अगर उसे सही दिशा दे दिया जाय तो असंभव
क्रोध को नियंत्रित कर अगर उसे सही दिशा दे दिया जाय तो असंभव
Paras Nath Jha
वतन
वतन
डॉ०छोटेलाल सिंह 'मनमीत'
पेड़ नहीं, बुराइयां जलाएं
पेड़ नहीं, बुराइयां जलाएं
अरशद रसूल /Arshad Rasool
💐प्रेम कौतुक-528💐
💐प्रेम कौतुक-528💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
Loading...