Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#13 Trending Author
Sep 2, 2017 · 1 min read

कर्म-पथ से ना डिगे वह आर्य है।

सजग कर दे राष्ट्र को आचार्य है ।
गुरु वही जो आत्मपथमय कार्य है ।
रीढ ,वह ही लोक की बनता सदा।
कर्म-पथ से ना डिगे वह आर्य है ।
…………………………………..
बृजेश कुमार नायक
“जागा हिंदुस्तान चाहिए” एवं “क्रौंच सुऋषि आलोक “कृतियों के प्रणेता

● उक्त मुक्तक को “पं बृजेश कुमार नायक की चुनिंदा रचनाए” कृति के द्वितीय संस्करण के अनुसार परिष्कृत किया गया है।
●”पं बृजेश कुमार नायक की चुनिंदा रचनाए” कृति का द्वितीय संस्करण काव्य संग्रह के रूप में अमेजोन और फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध है।

2 Likes · 1 Comment · 362 Views
You may also like:
समझता नहीं कोई
Dr fauzia Naseem shad
मन की पीड़ा
Dr fauzia Naseem shad
कहानी *"ममता"* पार्ट-4 लेखक: राधाकिसन मूंधड़ा, सूरत।
radhakishan Mundhra
लूं राम या रहीम का नाम
Mahesh Ojha
सच
दुष्यन्त 'बाबा'
सीखने का हुनर
Dr fauzia Naseem shad
'पूर्णिमा' (सूर घनाक्षरी)
Godambari Negi
✍️इश्क़ और जिंदगी✍️
'अशांत' शेखर
बिंदु छंद "राम कृपा"
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
बुंदेली दोहे
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
बुंदेली दोहा-डबला
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
फिजूल।
Taj Mohammad
सारे यार देख लिए..
Dr. Meenakshi Sharma
गुणगान क्यों
spshukla09179
सुकून :-
लक्ष्मण 'बिजनौरी'
जीवन की तलाश
Taran Singh Verma
*रामभक्त हनुमान (भक्ति गीत)*
Ravi Prakash
तुम्हारी बात
सिद्धार्थ गोरखपुरी
पहले जैसे रिश्ते अब क्यों नहीं रहे
Ram Krishan Rastogi
“ खून का रिश्ता “
DrLakshman Jha Parimal
✍️बुनियाद✍️
'अशांत' शेखर
अजब कहानी है।
Taj Mohammad
घर घर तिरंगा फहराएंगे
Ram Krishan Rastogi
डाक्टर भी नहीं दवा देंगे।
सत्य कुमार प्रेमी
मैं तो सड़क हूँ,...
मनोज कर्ण
फरिश्तों सा कमाल है।
Taj Mohammad
घर
पंकज कुमार "कर्ण"
जग का राजा सूर्य
Buddha Prakash
पूरे किसी मेयार पर उतरे नहीं कभी ।
Dr fauzia Naseem shad
वक्त।
Taj Mohammad
Loading...