Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#28 Trending Author
Jun 4, 2022 · 1 min read

कर्म करो

सपनों में तुम रखों आस्था
और कर्म किए तुम जाओ।

रखो ईश्वर में तुम विश्वास
और गिरने से न तुम घबराओं।

आए समस्याएँ जो राहों में
तुम संयम के साथ उसे निकाल दो।

चट्टान भी आ जाए पैरों के तले
तुम ठोकड मार के उसे उछाल दो।

रख अपने अंदर तुम हिम्मत
तुफानों से टकराने की।

जरूरत नही कभी भी तुमको
मुसिबतों से घबराने की।

जो पाने का धुन है तुमको
उसमें पागलपन भर दो।

कर्म करते रहों तुम अपना
और ईश्वर को ध्यान कर लो।

फिर देखो यह कर्म तुम्हारा
कैसा रंग लेकर आता है।

देखो कैसे यह कर्म तुम्हें
तेरी मंजिल से मिलवाता है।

देखो कैसे तेरे जीवन को
यह मीठा फल दे जाता है।

~अनामिका

3 Likes · 4 Comments · 102 Views
You may also like:
सितम देखते हैं by Vinit Singh Shayar
Vinit kumar
लाल में तुम ग़ुलाब लगती हो
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
हरियाली और बंजर
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
आईनें में सूरत।
Taj Mohammad
मैं हूँ किसान।
Anamika Singh
✍️जिंदगी के अस्ल✍️
'अशांत' शेखर
भगवा हटा बिहार में, चढ़ गया हरा रंग
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
✍️बिच की दिवार✍️
'अशांत' शेखर
वक्त और दिन
DESH RAJ
सुरज से सीखों
Anamika Singh
काँटा और गुलाब
Anamika Singh
दो पल मोहब्बत
श्री रमण 'श्रीपद्'
मै हिम्मत नही हारी
Anamika Singh
बस चार कंधे
Gaurav Dehariya साहित्य गौरव
रुक्सत रुक्सत बदल गयी तू
D.k Math { ਧਨੇਸ਼ }
दिवस नहीं मनाये जाते हैं...!!!
Kanchan Khanna
बयां सारा हम हाले दिल करेंगे।
Taj Mohammad
मजदूर हूॅं साहब
Deepak Kohli
पितृ नभो: भव:।
Taj Mohammad
*!* "पिता" के चरणों को नमन *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
" ना रही पहले आली हवा "
Dr Meenu Poonia
आओ हम सब घर घर तिरंगा फहराए
Ram Krishan Rastogi
"आम की महिमा"
Dr. Asha Kumar Rastogi M.D.(Medicine),DTCD
अपना होता है तो
Dr fauzia Naseem shad
पर्यावरण दिवस
Ram Krishan Rastogi
1-साहित्यकार पं बृजेश कुमार नायक का परिचय
Pt. Brajesh Kumar Nayak
'नज़रिया'
Godambari Negi
'विजय दिवस'
Godambari Negi
करके शठ शठता चले
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
✍️इश्क़ से उम्मीदे बाकी है✍️
'अशांत' शेखर
Loading...