Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
21 Oct 2022 · 1 min read

तुम्हारा ध्यान कहाँ है…..

ध्यान एक बहुमूल्य निधि है यदि यह सही प्रकार से सही जगह लग जाए तो ऐसे-ऐसे भेद उजागर होने लगते हैं जिसके बारे में हमने कभी सोचा भी नहीं होता है। ध्यान का अर्थ किसी चित्र अथवा मूर्ति के ध्यान से नहीं है बल्कि विचारों के प्रवाह को रोककर विचार शून्य होने की एक अवस्था है।ध्यान हमें स्वयं से परिचित कराता है।

यह हमारे मन में छुपे विचारों और उनसे उत्पन्न होने वाले नकारात्मक भावों के आरोह-अवरोह को नियंत्रित कर उन्हें सकारात्मकता की ओर मोड़ देता है।

विद्यार्थियों के लिए कई बार ये कहा जाता है तुम्हारा ध्यान कहां है। ये वाक्य हम सब पर भी सटीक बैठता है हम लोगों में से कईयों को नहीं मालूम कि हमारा ध्यान कहां है ?

यदि इसकी खोज की जाए और इसे साधने का अभ्यास किया जाए तो जैसे कोई गोताखोर जब सागर की गहराईयों में पहुंच जाता है तो सागर की ऊपरी लहरें उसे प्रभावित नहीं करतीं वैसे ही यदि हम ध्यान की गहराईयों को छूना शुरू करते हैं तो व्यवहारिक जीवन में उठने वाली अवसाद, तनाव और चिंता की लहरें हमें विचलित नहीं कर पातीं।
चलिए तो आज से ही हम सभी ढूंढते हैं हमारा ‘ध्यान’ कहां है?

Language: Hindi
3 Likes · 1 Comment · 56 Views
You may also like:
मां की ममता
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
✍️आसमाँ के परिंदे ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
अपनों से न गै़रों से कोई भी गिला रखना
Shivkumar Bilagrami
*रस्ता जाम नहीं करिए( मुक्तक )*
Ravi Prakash
चाँदनी में नहाती रही रात भर
Dr Archana Gupta
सृष्टि रचयिता यंत्र अभियंता हो आप
Chaudhary Sonal
चिट्ठी पहुंचे भगतसिंह के
Shekhar Chandra Mitra
#सत्य_कथा
*Author प्रणय प्रभात*
मिट्टी की खुशबू
Dr fauzia Naseem shad
चाल कुछ ऐसी चल गया कोई।
सत्य कुमार प्रेमी
समय को भी तलाश है ।
Abhishek Pandey Abhi
सत्य विचार (पंचचामर छंद)
Rambali Mishra
तड़फ
Harshvardhan "आवारा"
# मेरे जवान ......
Chinta netam " मन "
संगीत
Surjeet Kumar
"हिंदी की दशा"
पंकज कुमार कर्ण
मेरी माँ
shabina. Naaz
सच
नंदलाल मणि त्रिपाठी पीताम्बर
अकेला चलने का जिस शख्स को भी हौसला होगा।
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
एउटा मधेशी ठिटो
Dinesh Yadav (दिनेश यादव)
आलेख : सजल क्या हैं
Sushila Joshi
पुनर्विवाह
Anamika Singh
वक्त।
Taj Mohammad
✍️सुलगता जलजला
'अशांत' शेखर
దీపావళి జ్యోతులు
विजय कुमार 'विजय'
*"परशुराम के वंशज हैं"*
Deepak Kumar Tyagi
रिश्ते-नाते
ओमप्रकाश भारती *ओम्*
वर्क होम में ऐश की
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
सृजन की तैयारी
Saraswati Bajpai
कामयाब
Sushil chauhan
Loading...