Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Aug 6, 2022 · 1 min read

कमी मेरी तेरे दिल को

कमी मेरी तेरे दिल को महसूस होने तक ।
मैं बेचैन हो जाऊं तुझे महसूस होने तक ।।

डाॅ फौज़िया नसीम शाद

5 Likes · 34 Views
You may also like:
रूह को कैसे सजाओगे।
Taj Mohammad
गुरु-पूर्णिमा पर...!!
Kanchan Khanna
पर्यावरण
सूर्यकांत द्विवेदी
गोरे मुखड़े पर काला चश्मा
श्री रमण 'श्रीपद्'
शम्मा ए इश्क़।
Taj Mohammad
Accept the mistake
Buddha Prakash
कोरोना - इफेक्ट
Kanchan Khanna
दिवस नहीं मनाये जाते हैं...!!!
Kanchan Khanna
कविता 100 संग्रह
श्याम सिंह बिष्ट
तोड़ें नफ़रत की सीमाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
एक बावली सी लड़की
Faza Saaz
✍️मैं काश हो गया..✍️
'अशांत' शेखर
अर्थ व्यवस्था मनि मेनेजमेन्ट
DR ARUN KUMAR SHASTRI
बादल का रौद्र रूप
ओनिका सेतिया 'अनु '
तनिक पास आ तो सही...!
Dr. Pratibha Mahi
दर्द की कश्ती
DESH RAJ
*श्री विष्णु शरण अग्रवाल सर्राफ द्वारा ध्यान का आयोजन*
Ravi Prakash
बदला
शिव प्रताप लोधी
भली बातें
Dr. Sunita Singh
करुणा के बादल...
डॉ.सीमा अग्रवाल
¡*¡ हम पंछी : कोई हमें बचा लो ¡*¡
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
दो दिलों का मेल है ये
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
असीम जिंदगी...
मनोज कर्ण
A pandemic 'Corona'
Buddha Prakash
घातक शत्रु
AMRESH KUMAR VERMA
ठिकरा विपक्ष पर फोडा जायेगा
Mahender Singh Hans
व्यास पूर्णिमा
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
पागल हूं जो दिन रात तुझे सोचता हूं।
Harshvardhan "आवारा"
राफेल विमान
jaswant Lakhara
घुतिवान- ए- मनुज
AMRESH KUMAR VERMA
Loading...