Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
18 Sep 2016 · 1 min read

ऐसी मुरली बजाए मेरा श्याम/मंदीप

ऐसी मुरली बजाए मेरा श्याम,
सब के दिलो को मिले आराम।

कोई बोले कन्हा कोई बोले गोबिन्द,
मेरे श्याम के है अनेको नाम।

रखना दिल में श्याम को दिल में,
तभी बनेगे तेरे बिगड़े हर एक काम।

रहे सब प्यार से मिल जुल कर,
पिला दो सब को प्यार का जाम।

रहे मंदीप हमेसा श्याम के चरणों में,
लेता रहे नाम तुम्हारा रात दिन, सुबह और शाम।

#मंदीपसाई

Language: Hindi
Tag: कविता
172 Views
You may also like:
"एक नज़्म लिख रहा हूँ"
Lohit Tamta
"हैप्पी बर्थडे हिन्दी"
पंकज कुमार कर्ण
*पुराने जमाने में सर्राफे की दुकान पर "परिवर्तन तालिका" नामक...
Ravi Prakash
गुरु नानक का जन्मदिन
सत्य भूषण शर्मा
चरैवेति चरैवेति का संदेश
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
■ कविता / कहता. अगर बोल पाता तो....!
*प्रणय प्रभात*
माँ सिद्धिदात्री
Vandana Namdev
तरबूज का हाल
श्री रमण 'श्रीपद्'
बदलती दुनिया
AMRESH KUMAR VERMA
✍️वो मेरे शहर से सिकंदर बना✍️
'अशांत' शेखर
कबीर साहेब की शिक्षाएं
vikash Kumar Nidan
🚩सहज बने गह ज्ञान,वही तो सच्चा हीरा है ।
Pt. Brajesh Kumar Nayak
एक प्रश्न
komalagrawal750
जिंदगी तुमसे जीना सीखा
Abhishek Pandey Abhi
पिता
Neha Sharma
सन्त कवि रैदास पर दोहा एकादशी
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
मुझे तुम भूल सकते हो
Dr fauzia Naseem shad
जब-जब देखूं चाँद गगन में.....
अश्क चिरैयाकोटी
गणपति
विशाल शुक्ल
रात
अंजनीत निज्जर
सावधान हो जाओ, मुफ्त रेवड़ियां बांटने बालों
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
* तिस लाग री *
DR ARUN KUMAR SHASTRI
जीवन के आधार पिता
Kavita Chouhan
मानकर जिसको अपनी खुशी
gurudeenverma198
मैं पिता हूँ
सूर्यकांत द्विवेदी
चाँद पर खाक डालने से क्या होगा
shabina. Naaz
ग़ज़ल सगीर
डॉ सगीर अहमद सिद्दीकी Dr SAGHEER AHMAD
✍️ओ कान्हा ✍️
Vaishnavi Gupta (Vaishu)
समय करेगा निर्णय
Shekhar Chandra Mitra
"अकेला काफी है तू"
कवि दीपक बवेजा
Loading...