Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Dashboard
Notifications
Settings
Sep 17, 2017 · 1 min read

एहसास

प्रेम का एहसास है कुछ खास
समझ लेता है हृदय नयनों की भाष।
कुछ तो पा ही लेते हैं प्यार की मंजिल
कुछ तड़पते हुए बनजाते हैं बस ज़िंदा लाश।

प्रीत की रीत से चाहत का दीप सुनो,
नव निर्मल एहसास लिए जलता है।
सुन, वजूद प्रेम के होने का,
नित नई आस लिए पलता है।

सुन, एक एहसास प्यार के होने का
जड़ जीवन में भी जीवन संचार करता है।
सुगंध से प्रेम की हर प्राणी का जीवन
बसंत सी खुशियों सम अनंत अपार भरता है।

चांद की चांदनी सा नीलम नहीं है प्रेम सुनो,
यह वो नौका है जो डूबी तो सहारा न मिले।
हो सकता है भव पार तुम भी हो जाओ,
यह वो झोंका है कि पास होके भी किनारा न मिले।

नीलम अब छोड़ भी दे तू प्रेम प्रीत का चक्कर
तुझको न रास यह एहसास कभी आएंगे।
ये ज़रूरी नहीं कि सब चाहें तुमको तेरी तरह
लोग तो लोग हैं औकात भी तो अपनी ही दिखाएंगे।

नीलम शर्मा

1 Like · 1 Comment · 263 Views
You may also like:
मुझको कबतक रोकोगे
Abhishek Pandey Abhi
संविदा की नौकरी का दर्द
आकाश महेशपुरी
✍️अकेले रह गये ✍️
Vaishnavi Gupta
समय का सदुपयोग
Anamika Singh
पितृ स्तुति
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
ठोकरों ने गिराया ऐसा, कि चलना सीखा दिया।
Manisha Manjari
Blessings Of The Lord Buddha
Buddha Prakash
मर्द को भी दर्द होता है
सुरेन्द्र शर्मा 'शिव'
धन्य है पिता
Anil Kumar
मै पैसा हूं दोस्तो मेरे रूप बने है अनेक
Ram Krishan Rastogi
कोई हमदर्द हो गरीबी का
Dr fauzia Naseem shad
Kavita Nahi hun mai
Shyam Pandey
मेरे पापा
Anamika Singh
रावण - विभीषण संवाद (मेरी कल्पना)
Anamika Singh
मेरा गुरूर है पिता
VINOD KUMAR CHAUHAN
पितृ वंदना
मनोज कर्ण
छोड़ दी हमने वह आदते
Gouri tiwari
बरसात की छतरी
Buddha Prakash
बाबा साहेब जन्मोत्सव
Mahender Singh Hans
बुद्ध भगवान की शिक्षाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
पिता का सपना
Prabhudayal Raniwal
ऐसे थे मेरे पिता
Minal Aggarwal
खुद से बच कर
Dr fauzia Naseem shad
इस तरह
Dr fauzia Naseem shad
हमें अब राम के पदचिन्ह पर चलकर दिखाना है
Dr Archana Gupta
सृजन कर्ता है पिता।
Taj Mohammad
परिवाद झगड़े
ईश्वर दयाल गोस्वामी
दर्द की हम दवा
Dr fauzia Naseem shad
जीवन के उस पार मिलेंगे
Shivkumar Bilagrami
हायकु मुक्तक-पिता
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
Loading...