Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#1 Trending Author
May 12, 2022 · 1 min read

“एक यार था मेरा”

एक यार था मेरा,
भोली आँखों वाला, चंचल सा बड़ा मतवाला,
दिल में उसके बस प्यार भरा, सूरत से मासूम भोला-भाला,
जब-जब होता मैं परेशां वो सब समझ जाता, आके मुझे बड़े प्यार से गले लगता,
ख़ुशी-गम सब समझता था वो, इसनां से ज्यादा जज़्बात रखता था वो,
बेज़ुबा था वो पर हमेशा सबके लिए ज़ुबाँ पे अपनी दुआ रखता था वो,
दर्द था उसको पर किसी से बोल ना पाया वो, ख़ामोशी से सबको छोड़ के दूसरी दुनियां में चला गया वो,
मेरे दिल में हमेशा ज़िंदा रहेगा वो, सिर्फ याद नहीं मेरी धड़कन बन के धड़कता रहेगा वो,
दोस्ती-प्यार रिश्ते सब एक किताब में सीखा गया मुझको जो,
एक यार था मेरा वो।
“लोहित टम्टा”

2 Likes · 163 Views
You may also like:
वर्तमान से वक्त बचा लो तुम निज के निर्माण में...
AJAY AMITABH SUMAN
आत्मज्ञान
Shyam Sundar Subramanian
ऐ वतन!
Anamika Singh
टिप्पणियों ( कमेंट्स) का फैशन या शोर
ओनिका सेतिया 'अनु '
जन्नत व जहन्नम देखी है।
Taj Mohammad
राफेल विमान
jaswant Lakhara
याद भी तुमको हम
Dr fauzia Naseem shad
राहतें ना थी।
Taj Mohammad
मेहनत
AMRESH KUMAR VERMA
चुप ही रहेंगे...?
मनोज कर्ण
**साधुतायां निष्ठा**
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
गुरुवर
AMRESH KUMAR VERMA
लघुकथा: ऑनलाइन
Ravi Prakash
Colourful Balloons
Buddha Prakash
युद्ध सिर्फ प्रश्न खड़ा करता है [भाग१]
Anamika Singh
बीवी हो तो ऐसी... !!
Rakesh Bahanwal
बेबस पिता
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
किसको बुरा कहें यहाँ अच्छा किसे कहें
Dr Archana Gupta
शत शत नमन उन सपूतों को
gurudeenverma198
जिंदगी की अभिलाषा
Dr.Alpa Amin
*विश्व योग का दिन पावन इक्कीस जून को आता(गीत)*
Ravi Prakash
खुदा मुझको मिलेगा न तो (जानदार ग़ज़ल)
रकमिश सुल्तानपुरी
जीवन और मृत्यु
Anamika Singh
शब्दों से परे
Mahendra Rai
पिता का मर्तबा।
Taj Mohammad
बहुत हुशियार हो गए है लोग
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
मानव_शरीर_में_सप्तचक्रों_का_प्रभाव
Vikas Sharma'Shivaaya'
रिश्तों में बढ रही है दुरियाँ
Anamika Singh
कल्पना
Anamika Singh
एक प्रयास अपने लिए भी
Dr fauzia Naseem shad
Loading...