Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jun 7, 2021 · 1 min read

एक बूंद इश्क

अजी थोड़ी देर तो बैठो, इससे तुम्हारा क्या जाएगा
मेरा दिल जो बैठा जाता है, संभल जाएगा
यू पल भर आकर बेरुखी से उठ चल देते हो
मेरे दर्द को समझने का हुनर, तुमको कब आएगा
वक़्त लेकर आना अबकी बार, बातें कर ले दो
ऐसे तो हर सवाल मेरे दिल मे ही मर जायेगा
खताबार हूँ तो ये लो मेरा सर तेरे आगे है
कर लो वो जो तुम्हारे दिल मे आएगा
मिन्नते कर रही हूँ आज, कल किसने देखा
बाद तरसोगे एक बूँद इश्क को, ना कही आराम आएगा

1 Like · 147 Views
You may also like:
जीवन मे कभी हार न मानों
Anamika Singh
♡ तेरा ख़याल ♡
Dr.Alpa Amin
तमाशाई बन गए हैं।
Taj Mohammad
शृंगार छंद और विधाएं
Subhash Singhai
बुरी आदत की तरह।
Taj Mohammad
💐मनुष्यशरीरस्य शक्ति: सुष्ठु नियोजनं💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
विरहनी के मुख से कुछ मुक्तक
Ram Krishan Rastogi
“मोह मोह”…….”ॐॐ”….
Piyush Goel
हम तेरे रोकने से
Dr fauzia Naseem shad
कृतिकार पं बृजेश कुमार नायक की कृति /खंड काव्य/शोधपरक ग्रंथ...
Pt. Brajesh Kumar Nayak
अधुरा सपना
Anamika Singh
पिता का दर्द
Anamika Singh
💐ये मेरी आशिकी💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
गुरु के अनेक रूप
ओनिका सेतिया 'अनु '
जीवन की तलाश
Taran Singh Verma
💐प्रेम की राह पर-56💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
💐💐प्रेम की राह पर-50💐💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
✍️थोड़ी मजाकियां✍️
'अशांत' शेखर
उपदेश से तृप्त किया ।
Buddha Prakash
इन्द्रवज्रा छंद (शिवेंद्रवज्रा स्तुति)
बासुदेव अग्रवाल 'नमन'
" शौक बड़ी चीज़ है या मजबूरी "
Dr Meenu Poonia
लेखनी
Anamika Singh
नफरत है मुझे
shabina. Naaz
मैं मेरा परिवार और वो यादें...💐
लवकुश यादव "अज़ल"
न और ना प्रयोग और अंतर
Subhash Singhai
घृणित नजर
Dr Meenu Poonia
मंजूषा बरवै छंदों की
डाॅ. बिपिन पाण्डेय
हवा
AMRESH KUMAR VERMA
ईद में खिलखिलाहट
Dr. Kishan Karigar
मेहमान बनकर आए और दुश्मन बन गए ..
ओनिका सेतिया 'अनु '
Loading...