Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Jul 19, 2016 · 1 min read

एक बाप की औलाद

सूखा पीपल

हवा का झोका आया
और
खर खर खर
कु आवाज से
पीपल के पत्ते जमीं पर
बिखर गए
अब न मालूम पड़ रहा था
कौन किस फ्लोर का
निवाशी है
किस महंत के सिस्य है
सब एक झुण्ड में तो थे लेकिन
पहचान बस इतनी थी
ये पीपल के पत्ते हैं
आज सब का अहंकार और भ्रम
टूट चूका था
सब जान गए थे
हम इस मुल्क उस मुल्क के नहीं
अपितु
एक बाप की औलाद हैं….

आमोद बिन्दौरी ©®

1 Comment · 177 Views
You may also like:
पढ़ाई-लिखाई एक बोझ
AMRESH KUMAR VERMA
*ध्यान में निराकार को पाना (भक्ति गीत)*
Ravi Prakash
*दर्शन प्रभुजी दिया करो (गीत भजन)*
Ravi Prakash
✍️✍️तो सूर्य✍️✍️
"अशांत" शेखर
इंसाफ हो गया है।
Taj Mohammad
वैश्या का दर्द भरा दास्तान
Anamika Singh
वर्तमान
Vikas Sharma'Shivaaya'
खत किस लिए रखे हो जला क्यों नहीं देते ।
Dr.SAGHEER AHMAD SIDDIQUI
दरिंदगी से तो भ्रूण हत्या ही अच्छी
Dr Meenu Poonia
स्वर्गीय रईस रामपुरी और उनका काव्य-संग्रह एहसास
Ravi Prakash
✍️KITCHEN✍️
"अशांत" शेखर
ज़िंदगी।
Taj Mohammad
कर्म करो
Anamika Singh
💐प्रेम की राह पर-22💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
“ फेसबुक क प्रणम्य देवता ”
DrLakshman Jha Parimal
🌺🌺Kill your sorrows with your willpower🌺🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
💐प्रेम की राह पर-26💐
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
चेहरा
शिव प्रताप लोधी
गुज़र रही है जिंदगी...!!
Ravi Malviya
महफिल में छा गई।
Taj Mohammad
कबीर साहेब की शिक्षाएं
vikash Kumar Nidan
तुझ पर ही निर्भर हैं....
Dr. Alpa H. Amin
क़ैद में 15 वर्षों तक पृथ्वीराज और चंदबरदाई जीवित थे
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
साल गिरह
डॉ प्रवीण कुमार श्रीवास्तव, प्रेम
ग़ज़ल
सुरेखा कादियान 'सृजना'
मोहब्बत
Kanchan sarda Malu
✍️वो मील का पत्थर....!
"अशांत" शेखर
करो नहीं किसी का अपमान तुम
gurudeenverma198
यह कैसा एहसास है
Anuj yadav
मनुआँ काला, भैंस-सा
Pt. Brajesh Kumar Nayak
Loading...