#16 Trending Author
Jan 18, 2022 · 1 min read

एक बहुत ही सुंदर सा खिलौना

कभी बन जाऊंगी मैं भी
मिट्टी पर
अभी तो सोना हूं
अभी हंसना है मुझे
जीना है मुझे
खेलना है मुझे
एक फूल सा खिलना है
मुझे
सुबह जगना है
रात को सोना है
खुद में ही कहीं खोना
खुद में ही खुद को तो
कभी खुदा को पाना है मुझे
दुनिया चाहे मुझे कुछ भी
समझे
परवाह नहीं मुझे
मैं एक जीता जागता
भगवान का बनाया
एक बहुत ही सुंदर सा खिलौना हूं
बस इतना पता है मुझे।

मीनल
सुपुत्री श्री प्रमोद कुमार
इंडियन डाईकास्टिंग इंडस्ट्रीज
सासनी गेट, आगरा रोड
अलीगढ़ (उ.प्र.) – 202001

2 Likes · 2 Comments · 172 Views
You may also like:
नरसिंह अवतार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
*स्मृति डॉ. उर्मिलेश*
Ravi Prakash
उम्मीद की रोशनी में।
Taj Mohammad
पापा
सेजल गोस्वामी
वक्त अब कलुआ के घर का ठौर है
Pt. Brajesh Kumar Nayak
तोड़कर मुझे न देख
अरशद रसूल /Arshad Rasool
सत् हंसवाहनी वर दे,
Pt. Brajesh Kumar Nayak
जिम्मेदारी और पिता
Dr. Kishan Karigar
आख़िरी मुलाक़ात ghazal by Vinit Singh Shayar
Vinit Singh
तेरे दिल में कोई और है
Ram Krishan Rastogi
【12】 **" तितली की उड़ान "**
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
【22】 तपती धरती करे पुकार
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
शिव स्तुति
अभिनव मिश्र अदम्य
* तुम्हारा ऐहसास *
Dr. Alpa H.
पितृ स्वरूपा,हे विधाता..!
मनोज कर्ण
कलयुग की पहचान
Ram Krishan Rastogi
युद्ध हमेशा टाला जाए
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
पिता हैं धरती का भगवान।
Vindhya Prakash Mishra
हमारे पापा
पाण्डेय चिदानन्द
आलिंगन हो जानें दो।
Taj Mohammad
सारे निशां मिटा देते हैं।
Taj Mohammad
चिट्ठी का जमाना और अध्यापक
Mahender Singh Hans
पिता:सम्पूर्ण ब्रह्मांड
Jyoti Khari
करते रहो सितम।
Taj Mohammad
आ लौट के आजा घनश्याम
Ram Krishan Rastogi
ईद में खिलखिलाहट
Dr. Kishan Karigar
घनाक्षरी छन्द
शेख़ जाफ़र खान
प्रकाशित हो मिल गया, स्वाधीनता के घाम से
Pt. Brajesh Kumar Nayak
बेटियाँ
डा. सूर्यनारायण पाण्डेय
आसान नहीं हैं "माँ" बनना...
Dr. Alpa H.
Loading...