Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
#5 Trending Author
Apr 21, 2022 · 1 min read

एक पिता की जान।

बड़ा तन्हा हो गया है वो बागवान।
परिंदे सारे उड़ गए रह गया वो बेजान।।1।।

रोपे थे शजर अपने हाथों से कभी।
हो गए सारे के सारे वो उससे अंजान।।2।।

रात दिन रास्ता देखती उसकी आंखे।
बेटों के लिए पर रास्ते रहते सूनसान।।3।।

बड़े अरमानों से पढ़ाया लिखाया था।
सोच-सोच के होता वो बड़ा परेशान।।4।।

पीसर हैं कैसे बद्दुआ दे दे वो उनको।
अहद था बीवी से रहेगा वो रहमान।।5।।

आया ना कोई देखने को उसका हाल।
यूं देखो चली गई एक पिता की जान।।6।।

ताज मोहम्मद
लखनऊ

3 Likes · 6 Comments · 109 Views
You may also like:
" दिव्य आलोक "
DrLakshman Jha Parimal
मिठास- ए- ज़िन्दगी
AMRESH KUMAR VERMA
✍️किस्मत ही बदल गयी✍️
'अशांत' शेखर
🌺प्रेम की राह पर-52🌺
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
ज़िंदगी से सवाल
Dr fauzia Naseem shad
सारे निशां मिटा देते हैं।
Taj Mohammad
मैं भारत हूँ
Dr. Sunita Singh
The Survior
श्याम सिंह बिष्ट
सागर
Vikas Sharma'Shivaaya'
बारिश की बौछार
Shriyansh Gupta
✍️ सर झुकाया नहीं✍️
'अशांत' शेखर
🍀🌺प्रेम की राह पर-43🌺🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
*प्रिय सावन में मतवाली (गीतिका)*
Ravi Prakash
इंतजार
Anamika Singh
दुआओं की नौका...
Umesh उमेश शुक्ल Shukla
✍️मै कहाँ थक गया हूँ..✍️
'अशांत' शेखर
राहत।
Taj Mohammad
इंसा का रोना भी जरूरी होता है।
Taj Mohammad
पिता की सीख
Anamika Singh
वो हमें दिन ब दिन आजमाते रहे।
सत्य कुमार प्रेमी
✍️दो और दो पाँच✍️
'अशांत' शेखर
✍️पुरानी रसोई✍️
'अशांत' शेखर
जिन्दगी का मामला।
Taj Mohammad
*साधुता और सद्भाव के पर्याय श्री निर्भय सरन गुप्ता :...
Ravi Prakash
अब नही छल सकते हो
Anamika Singh
रक्षाबंधन गीत
Dr Archana Gupta
रक्षा के पावन बंधन का, अमर प्रेम त्यौहार
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
✍️आखरी कोशिश✍️
'अशांत' शेखर
✍️पलभर का इश्क़✍️
'अशांत' शेखर
हमारी प्यारी मां
Shriyansh Gupta
Loading...