Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

उपहार या व्यापार !

शादी में,
बहुभोजों में
दुल्हिन को बिठाकर
चौक-चुमोना, गिफ़्ट
और रुपये का लिफ़ाफ़ा लेना
और इसके लिए
काउंटर खोलना गलत है,
यह प्रथा बन्द हो !

1 Like · 166 Views
You may also like:
बुलबुला
मनोज शर्मा
प्यार में तुम्हें ईश्वर बना लूँ, वह मैं नहीं हूँ
Anamika Singh
ऐ वतन!
Anamika Singh
भूख
Varun Singh Gautam
गर्भस्थ बेटी की पुकार
Dr Meenu Poonia
धीरे-धीरे कदम बढ़ाना
Anamika Singh
पिता
Arvind trivedi
'भारत की प्रथम नागरिक'
Godambari Negi
दर्द इनका भी
Dr fauzia Naseem shad
निभाता चला गया
वीर कुमार जैन 'अकेला'
शेर राजा
Buddha Prakash
भोजपुरी के संवैधानिक दर्जा बदे सरकार से अपील
आकाश महेशपुरी
किसी का जला मकान है।
Taj Mohammad
नेताओं के घर भी बुलडोजर चल जाए
Dr. Kishan Karigar
हक़ीक़त न पूछिए
Dr fauzia Naseem shad
'बाबूजी' एक पिता
पंकज कुमार "कर्ण"
राजनीति ओछी है लोकतंत्र आहत हैं।
सत्य कुमार प्रेमी
✍️✍️नासूर दर्द✍️✍️
"अशांत" शेखर
ग़ज़ल
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
शहर को क्या हुआ
Anamika Singh
ज़िक्र तेरा
Dr fauzia Naseem shad
जालिम कोरोना
Dr Meenu Poonia
बड़ा भाई बोल रहा हूं
Satpallm1978 Chauhan
तुम ख़्वाबों की बात करते हो।
Taj Mohammad
जावेद कक्षा छः का छात्र कला के बल पर कई...
Shankar J aanjna
तुम बिन लगता नही मेरा मन है
Ram Krishan Rastogi
सुकून सा ऐहसास...
Dr.Alpa Amin
बुंदेली हाइकु- (राजीव नामदेव राना लिधौरी)
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
वक्त को कब मिला है ठौर
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
चांद
Annu Gurjar
Loading...