Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame

आ ही गई बरसात

लो आज आ ही गई
बरसात
कब से इंतजार में बैठे थे
हम और तुम
गुमसुम गुमसुम
प्यासे पशु पक्षी
कितना परेशान थे
आशा में जिंदा थे
दिखते बेजान थे
जीवन का अमृत
ला ही गई बरसात
लो आज आ ही गई
बरसात

4 Likes · 7 Comments · 302 Views
You may also like:
रसूल ए खुदा।
Taj Mohammad
पिता
Rajiv Vishal
नजर तो मुझको यही आ रहा है
gurudeenverma198
दिल में चुभती हुई
Dr fauzia Naseem shad
"क़तरा"
Ajit Kumar "Karn"
फिजूल।
Taj Mohammad
लोभ का जमाना
AMRESH KUMAR VERMA
✍️दम-भर ✍️
"अशांत" शेखर
💐आत्म साक्षात्कार💐
DR ARUN KUMAR SHASTRI
दिवस नहीं मनाये जाते हैं...!!!
Kanchan Khanna
मातृभाषा हिंदी
AMRESH KUMAR VERMA
रोटी संग मरते देखा
शेख़ जाफ़र खान
**अशुद्ध अछूत - नारी **
DR ARUN KUMAR SHASTRI
This is how the journey of a warrior begins.
Manisha Manjari
कालजयी साहित्यकार जयशंकर प्रसाद जी (133 वां जन्मदिन)
महावीर उत्तरांचली • Mahavir Uttranchali
जो आया है इस जग में वह जाएगा।
Anamika Singh
देह मिलन
Kavita Chouhan
चिन्ता और चिता में अन्तर
Ram Krishan Rastogi
इब्ने सफ़ी
DR ARUN KUMAR SHASTRI
वर्तमान
Vikas Sharma'Shivaaya'
संघर्ष
Anamika Singh
राफेल विमान
jaswant Lakhara
मेरा पेड़
उमेश बैरवा
गैरों की क्या बात करें
अनिल कुमार गुप्ता 'अंजुम'
प्रेम की किताब
DESH RAJ
🍀🌺परमात्मा सर्वोपरि🌺🍀
शिवाभिषेक: 'आनन्द'(अभिषेक पाराशर)
होली कान्हा संग
Kanchan Khanna
✍️बसेरा✍️
"अशांत" शेखर
फिक्र ना है किसी में।
Taj Mohammad
【25】 *!* विकृत विचार *!*
Arise DGRJ (Khaimsingh Saini)
Loading...