Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
May 3, 2017 · 1 min read

आ सजाऊँ भाल पर चंदन तरुण

चेतनामय लोकहित जागो निपुण।
धरणि पर बैकुंठ का हो अवतरण।
राष्ट्र पुलकित कहेगा सम्मान से।
आ सजाऊँ भाल पर चंदन तरुण।
़़़़़़़़़़़़़:़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़़

● उक्त मुक्तक को “जागा हिंदुस्तान चाहिए” काव्य संग्रह के द्वितीय संस्करण के अनुसार परिष्कृत किया गया है।

● “जागा हिंदुस्तान चाहिए” काव्य संग्रह का द्वितीय संस्करण अमेजोन और फ्लिपकार्ट पर उपलब्ध है।

बृजेश कुमार नायक
सुभाष नगर ,कोंच
“जागा हिंदुस्तान चाहिए” एवं “क्रौंच सुऋषि आलोक” कृतियों के प्रणेता
03-05-2017

1 Like · 1 Comment · 435 Views
You may also like:
मैने देखा है
Anamika Singh
पिता की अभिलाषा
मनोज कर्ण
✍️चार कदम जिंदगी✍️
'अशांत' शेखर
लबों से मुस्करा देते है।
Taj Mohammad
राष्ट्रमंडल खेल- 2022
Deepak Kohli
इश्क में तन्हाईयां बहुत है।
Taj Mohammad
ग़ज़ल
kamal purohit
ईद मना रही है।
Taj Mohammad
प्रभु आशीष को मान दे
Saraswati Bajpai
“ অখনো মিথিলা কানি রহল ”
DrLakshman Jha Parimal
बच्चों को खूब लुभाते आम
Ashish Kumar
होता नहीं अब मुझसे
gurudeenverma198
“ पुराने नये सौगात “
DrLakshman Jha Parimal
तेरी खैर मांगता हूं।
Taj Mohammad
पहले ग़ज़ल हमारी सुन
Shivkumar Bilagrami
✍️लौटा हि दूँगा...✍️
'अशांत' शेखर
ख़्वाहिश पर लिखे अशआर
Dr fauzia Naseem shad
✍️जिंदगी✍️
'अशांत' शेखर
इश्क का दरिया
Anamika Singh
बुंदेली दोहा-डबला
राजीव नामदेव 'राना लिधौरी'
एक सुबह की किरण
Deepak Baweja
उसकी मर्ज़ी का
Dr fauzia Naseem shad
आख़िरी मुलाकात
N.ksahu0007@writer
विश्व फादर्स डे पर शुभकामनाएं
सुरेश कुमार चतुर्वेदी
ये सिर्फ मैं जानता हूँ
Swami Ganganiya
✍️एक तारा आसमाँ से टूटा था✍️
'अशांत' शेखर
अपनी जिंदगी
Ashok Sundesha
*मंत्री जी (हास्य व्यंग्य)*
Ravi Prakash
गुरु
Mamta Rani
जीवन में
Dr fauzia Naseem shad
Loading...