Sahityapedia
Login Create Account
Home
Search
Write
Notifications
Wall of Fame
Aug 10, 2016 · 1 min read

आ कर तो देखो

कभी मेरी बाहों में आ कर तो देखो,
ज़रा मुझको अपना बनाकर तो देखो।

करूँगा तुम्हें प्यार सबसे जियादा,
महब्बत मेरी आजमा कर तो देखो।

बदन पर सजेगी सितारों सी शबनम,
मेरे इश्क़ में तुम नहाकर तो देखो।

ये शम्सो क़मर होंगे कदमों में जानां,
फ़क़त हाथ अपना हिला कर तो देखो।

खड़े मीरो मुंसफ़ हुजूरी में हर पल,
ज़रा इक नजर तुम उठा कर तो देखो।

बहारें सुनाएं तुम्हें राग गोपी,
सनम तुम जरा गुनगुना कर तो देखो।

उतर आएं सारे सितारे ज़मीं पर,
‘मिलन’ तुम जरा मुस्कुरा कर तो देखो।
————-मिलन

146 Views
You may also like:
पिता हैं धरती का भगवान।
Vindhya Prakash Mishra
जोशवान मनुष्य
AMRESH KUMAR VERMA
विवश मनुष्य
AMRESH KUMAR VERMA
"मुश्किल वक़्त और दोस्त"
Lohit Tamta
मंदिर
जगदीश लववंशी
स्वर कटुक हैं / (नवगीत)
ईश्वर दयाल गोस्वामी
कन्यादान क्यों और किसलिए [भाग३]
Anamika Singh
सितम देखते हैं by Vinit Singh Shayar
Vinit Singh
देखा जो हुस्ने यार तो दिल भी मचल गया।
सत्य कुमार प्रेमी
चेहरा
शिव प्रताप लोधी
✍️टिकमार्क✍️
"अशांत" शेखर
शीतल पेय
श्री रमण
न झुकेगे हम
AMRESH KUMAR VERMA
✍️✍️याद✍️✍️
"अशांत" शेखर
ये चिड़िया
Anamika Singh
बेटी का संदेश
Anamika Singh
✍️जिंदगी का फ़लसफ़ा✍️
"अशांत" शेखर
अविरल
DR ARUN KUMAR SHASTRI
चौंक पड़ती हैं सदियाॅं..
Rashmi Sanjay
ये दिल टूटा है।
Taj Mohammad
तमन्नाओं का संसार
DESH RAJ
मेरी जिन्दगी से।
Taj Mohammad
मां का आंचल
VINOD KUMAR CHAUHAN
हम जलील हो गए।
Taj Mohammad
होना सभी का हिसाब है।
Taj Mohammad
मां शारदे
मनमोहन लाल गुप्ता अंजुम
कभी भीड़ में…
Rekha Drolia
प्रेम
श्रीहर्ष आचार्य
पिता
Ram Krishan Rastogi
जुल्म
AMRESH KUMAR VERMA
Loading...